Patrika Hindi News

यहां मरीजों को इलाज के बदले मिल रही मौत

Updated: IST Here patients get death due to treatment
स्वास्थ विभाग के अधिकारियों सहित कर्मचारियों की लापरवाहियां आए दिन देखने को मिल रही हैं। कभी जिला अस्पताल तो कभी अन्य स्वास्थ केन्द्र।

आगर-मालवा. स्वास्थ विभाग के अधिकारियों सहित कर्मचारियों की लापरवाहियां आए दिन देखने को मिल रही हैं। कभी जिला अस्पताल तो कभी अन्य स्वास्थ केन्द्र। यहां के कर्मचारी निकलने वाले अपशिष्टव दवाइयों को खुले मे फेंककर या जलाकर वातावरण तो प्रदूषित कर ही रहे हैं। लोगों के स्वास्थ के साथ भी खिलवाड़ किया जा रहा है।
कुछ इसी प्रकार का नजारा मंगलवार को छावनी के सराय स्थित स्वास्थ केन्द्र पर नजर आया। यहां पदस्थ स्वास्थ कर्मचारी ने बिना किसी चिकित्सक की सलाह लिए स्वास्थ केन्द्र परिसर के सामने ही अपशिष्ट व भारी मात्रा मे दवाइंया जला दीं। दवाइयों के जलने से परिसर में चहुंओर धुआं हो गया। इसके कारण लोग काफी परेशान हो गए। करीब एक घंटे तक यहां दवाइयां जलती रहीं। धुआं के कारण लोग मुंह व नाक ढंककर यहां से गुजर रहे थे।
परिसर में ही स्थित है कन्या मावि
इस स्वास्थ केन्द्र के समीप ही कन्या मावि स्थित है। यहां पर मंगलवार को दर्जनों की संख्या में छात्राएं व शिक्षक उपस्थित थे। दवाइयां जलाने के कारण धुआं स्कूल के अंदर भी पहुंचा जहां बच्चों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। यह स्थिति आए दिन यहां पर निर्मित होती उसके बावजूद भी जिम्मेदारों द्वारा कोई ध्यान नहीं दिया जाता है।
अस्पताल के सामने फेंकते हैं दवाइयां
जिला अस्पताल से निकलने वाला अपशिष्ट व एक्सपायरी दवाइयों के नष्टीकरण के लिए बकायदा एक वाहन के माध्यम से बाहर भेजा जाता है, लेकिन उसके बावजूद भी कईबार जिला अस्पताल के कर्मचारी इस अपशिष्ट और दवाइयों को अस्पताल के सामने चौराहे पर ही फेंक देते हैं। इन दवाइयों के आसपास मवेशाी मंडराने के साथ ही कई बार इनको खाते हुए भी नजर आए हैं।
अस्पताल से निकलने वाली दवाइयां बाहर फेंकना या जलाना सरासर गलत है। मामले की जांच की जाएगी। अस्पताल के अपशिष्ट के लिए एक वाहन आता है। इसके माध्यम से यह कचरा पीथमपुर पहुंचाया जाता है, जहां नष्टीकरण होता है।
बीएस बारिया, सीएमएचओ

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???