Patrika Hindi News

> > > > first time exhibition will be held at the Taj Mahal

कैंसर पीड़ित बच्चों के लिए 25 से 27 सितंबर तक 'चलो चलें ताज'

Updated: IST free wifi at Taj Mahal
ताजमहल में पहली बार प्रदर्शनी लगेगी। जिसमें 1500 कैंसर पीड़ित बच्चे शामिल होंगे।

आगरा। द गो गोल्ड ताज महोत्सव 25 से शुरू होगा। पहली बार ताजमहल में प्रदर्शनी लगेगी। ये प्रदर्शनी बच्चों को होने वाले कैंसर पर आधारित है। 27 सितंबर तक इसका आयोजन होगा। कैन किड्स...किड्सकैन, कैंसर पीड़ित हजारों बच्चों के इलाज और उनकी देखभाल करने वाली संस्था है। ये संस्था ताजमहल में पहली बार चाइल्डहुड कैंसर पर ताज गोज गोल्ड महोत्सव प्रदर्शनी लगा रही है। प्रदर्शनी गो गोल्ड इंडिया-ताज गोज गोल्ड और यूपी गोज गोल्ड कैंपेन का भाग है। जो कैंसर सर्वाइवर्स (पहले कैंसर से पीड़ित, अब स्वस्थ हो चुके बच्चों) के नेतृत्व में चलाया जाने वाला जन जागरूकता अभियान है।

1500 बच्चे लेंगे भाग

इस प्रदर्शनी में 'चलो चलें ताज' कार्यक्रम है। जिसमें करीब 1500 कैंसर पीड़ित बच्चे, चाइल्डहुड कैंसर सर्वाइवर्स और उनके परिवार प्रदर्शनी देखने ताजमहल आएंगे। कैनकिड्स की ओर से इन कैंसर पीड़ित बच्चों और उनके परिवारों को आपस में घुलने-मिलने और सामाजिक एकीकरण कार्यक्रम के तहत 25 से 27 सितंबर तक 'चलो चलें ताज' कार्यक्रम के तहत आगरा ले जाया जाएगा। जहां यह बच्चे और उनके परिवार ताज गोज गोल्ड महोत्सव के तहत बचपन में होने वाले कैंसर विषय पर एक प्रदर्शनी देखेंगे।

सीएम ने दिया समर्थन

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इस अभियान को अपना समर्थन दिया है। उन्होंने ट्वीट भी किया है 'यूपी कैनकिड्स के साथ गो गोल्ड कैंपेन में शामिल होगा।' इस प्रदर्शनी का उद्घाटन गेटवे होटल में किया जाएगा। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि लखनऊ के कमिश्नर, आईएएस और चिकित्सा शिक्षा विभाग के मुख्य सचिव अनूप चंद्र पाण्डे होंगे।

नुक्कड़ नाटक पेश करेंगे बच्चे

कैंसर सर्वाइवर्स की ओर से एक नुक्कड़ नाटक भी खेला जाएगा। विश्वभर में कैंसर पीड़ित बच्चों के इलाज के लिए जनजागरूकता उत्पन्न करने के लिए 'हम एक हैं'नाम से एक गीत कंपोज किया गया था, जिसे कार्यक्रम के दौरान दिखाया जाएगा। इसके साथ ही अभियान के समर्थन में विश्व की महत्वपूर्ण शख्सियतों और जानी-मानी हस्तियों के ढेरों संदेश भी दिखाए जाएंगे।

अधिकारी बोले जड़ से मिटाना है कैंसर

चिकित्सा शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव अनूप चंद्र पाण्डेय ने कहा कि बच्चों में होने वाले कैंसर को जड़ से मिटाना कैंसर मुक्त भारत के लिए बहुत जरूरी है। इसके साथ ही इसे वास्तविकता बनाने के लिए एनजीओ, सिविल सोसाइटी और सरकारों को मिलकर काम करना होगा। गो गोल्ड इंडिया के भाग के रूप में ताज गोज गोल्ड और यूपी गोज गोल्ड कैंपेन अभियान के तहत कैंसर सर्वाइवर्स (पहले कैंसर से पीड़ित, अब स्वस्थ हो चुके बच्चे) 2 लाख 50 हजार व्यक्तियों के हस्ताक्षर एकत्र कर रहे हैं। इसमें विश्व में कैंसर से पीड़ित हरेक बच्चे के लिए एक हस्ताक्षर है। श्री पाण्डेय ने यूपी में एक टास्क फोर्स का गठन किया है, जो उत्तर प्रदेश में बच्चों को होने वाले कैंसर के इलाज और बदलाव की दिशा में काम कर रही है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे