Patrika Hindi News

Krishna Janmashtami 2017- दो दिन मनाई जाएगी जन्माष्टमी, आपके लिए ये दिन शुभ!

Updated: IST janmashtami in temple
जानिए Krishna Janmashtami 2017 तिथि और पूजा का शुभ मुहूर्त

हिंदुओं में भगवान कृष्ण ऐसे देवता हैं जिनके भक्त सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी हैं। यही कारण है कि हर वर्ष Krishna Janmashtami का एक अलग ही रंग देखने को मिलता है। चूंकि हर बार Janmashtami दो दिन मनाई जाती है, एक दिन इसे संत लोग मनाते हैं व एक दिन भक्तजन। ऐसे भी कृष्ण भगवान के भक्तों को ये जानने की उत्सुकता रहती है कि आखिर उनके लिए Krishna Janmashtami किस दिन है? आइए जानते हैं Krishna Janmashtami 2017 की व्रत एवं पूजा तिथि के बारे में —

शास्त्रों के अनुसार भगवान श्री कृष्ण का जन्म भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी को Rohini Nakshatra में मध्यरात्रि के समय हुआ था। इसलिए भाद्रपद मास में आने वाली कृष्ण पक्ष की Ashtami को यदि Rohini Nakshatra का भी संयोग हो तो उस तिथि को बेहद शुभ और भाग्यशाली माना जाता है। इस बार 14 अगस्त को अष्टमी तिथि 19:45 पर आरंभ होगी और 15 अगस्त को 17:39 बजे तक रहेगी। 15 अगस्त को 17:39 बजे के बाद रोहिणी नक्षत्र समाप्त हो जाएगा। यानी इसके बाद यदि पूजन किया जाता है तो जन्माष्टमी रोहिणी रहित होगी। इसलिए 14 अगस्त को ही इसे मनाना अत्यधिक शुभ है।

एक नजर में देखें Janmashtami 2017 तिथि व मुहूर्त


जन्माष्टमी 2017- 14 अगस्त

निशिथ पूजा– 00:03 से 00:47

पारण– 17:39 (15 अगस्त) के बाद

रोहिणी समाप्त- रोहिणी रहित जन्माष्टमी

अष्टमी तिथि आरंभ – 19:45 (14 अगस्त)

अष्टमी तिथि समाप्त – 17:39 (15 अगस्त)

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???