Patrika Hindi News
UP Election 2017

काले, पीले पानी से अब मिलगी मुक्ति!

Updated: IST Get rid of the salt water, water from November to
लोग काला—पीला बदबूदार पानी पीने को मजबूर हैं।

आगरा। पीने के पानी की किल्लत सालों से हैं, कई क्षेत्रों के लोग काला—पीला बदबूदार पानी पीने को मजबूर हैं। जल निगम को अब लोगों को शुद्ध पानी देने की सुध आई है। पेयजल सप्लाई को सुधारने के लिए राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम के तहत स्पेशल प्रोजेक्ट तैयार किया गया। इसमें आगरा जनपद में 280.632 लाख रुपये से शुद्ध पेयजल आपूर्ति देने का प्लान बनाया है। हैंडपंप और नलकूप को सही करने के लिए निर्देशित किया गया है।

1200 हैंडपम्प पड़े हैं खराब
आगरा में पानी की सप्लाई देने के लिए दो बड़े वाटर वक्स हैं। ये यमुना पर निर्भर हैं, इसके साथ ही हैंडपम्प और पानी के टैंकरों से सप्लाई दी जाती है। वहीं ग्रामीण इलाकों में पानी के लिए कुओं और नलकूपों पर निर्भर रहना पड़ता है। वहीं शहर में पानी की पाइप लाइन काफी पुरानी हो रही हैं, जिन्हें सुधारा जा रहा है। ट्रांसयमुना क्षेत्र में नई पाइप लाइन डाली गई हैं। सूत्र बताते हैं कि शहर में करीब 1200 हैंडपंप हैं, लेकिन इनका पानी पीने लायक नहीं है। जिसके चलते पानी की किल्लत बढ़ती जा रही है।

पानी दे रहा बीमारियां
कई क्षेत्रों में पीले पानी के चलते बीमारियां मिल रही हैं। खंदौली, कालिंद्री बिहार, ढेड़ी बगिया, अकोला, बमरौली कटारा, बरौली अहीर, फतेहपुरसीकरी के कई गांवों में फ्लोराइड के बढ़ते स्तर से लोग उम्र से पहले बूढ़े हो चुके है। राज्य और केंद्र सरकार द्वारा मिलकर इस प्रोजेक्ट का खर्चा उठाने के बाद इन स्थानों पर पेयजल आपूर्ति सुधरने की उम्मीद जगी है।

विभाग जुटा तैयारियों में
जलनिगम पेयजल आपूर्ति के सुधार के लिए जुट गया है। पानी की व्यवस्था के लिए क्षेत्रों को चिन्हित किया जा रहा है। फिलहाल अधिकारी शासन से मिले निर्देश के बाद राशि का इंतजार कर रहे हैं। जल्द ही प्रोजेक्ट पर कार्य शुरू किया जाएगा।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???