Patrika Hindi News

सपा विधायक राजा ने थामा भाजपा का दामन, टिकटार्थियों के उड़े होश

Updated: IST raja aridaman singh
राजा के भाजपा में आने से साफ जाहिर हो गया है, कि टिकट की लाइन में लगे अन्य नेताओं का पत्ता साफ है।

आगरा। यूपी चुनाव से पहले भाजपा में दूसरे दलों से आने वाले नेताओं की दौड़ शुरू हो गई है। ऐसे में दूसरे दलों के नेताओं का पार्टी कार्यकर्ताओं और अन्य पदाधिकारियों का स्वागत किया जाता है, तो वहीं बाह से समाजवादी पार्टी के विधायक राजा महेन्द्र अरिदमन सिंह ने जब भाजपा ज्वाइन की, तो इस विधानसभा से टिकट मांग रहे नेताओं के होश उड़ गए। राजा के भाजपा में आने से साफ जाहिर हो गया है, कि वे टिकट की लाइन से पूरी तरह हट गए हैं।

बाह विधानसभा से ये मांग रहे टिकट
बाह विधानसभा की बात करें, तो यूपी चुनाव 2012 में सपा ने इस सीट से अपना खाता खोला था। राजा महेन्द्र अरिदमन सिंह इस विधानसभा सीट से विधायक बने। भाजपा इस सीट पर इस बार कोई रिस्क नहीं लेना चाहती है। इसी कारण लम्बे समय से इस सीट पर मंथन भी चल रहा था, कि चुनाव मैदान में किसे उतारा जाए। इस सीट पर मौजूदा समय में टिकट मांगने वालों की सूची भी लम्बी है। बाह से सपा से आए जितेन्द्र वर्मा भी टिकट मांग रहे हैं, उनके अलावा भाजपा नेता बृजमोहन जोशी, सीए अरविंद पाठक, संतोष कटारा और अंशू निषाद भाजपा से टिकट लाने के लिए लाइन में हैं।

भाजपाइयों में बड़ा विरोध
राजा महेन्द्र अरिदमन सिंह का भाजपाइयों में बड़ा विरोध रहा है। कारण है कि राजा महेन्द्र अरिदमन सिंह के आने से बाह से टिकट मांग रहे कई प्रत्याशियों के सपने टूट जाएंगे। ये स्पष्ट है कि राजा ने पार्टी ज्वाइन की है, तो कुछ शर्त जरूर होगी और इस शर्त को बाह विधानसभा से भाजपा के टिकट से जोड़ा जा रहा है। यदि भाजपा से राजा को टिकट मिला, तो भाजपा में भी दंगल शुरू हो जाएगा। सासंद चौधरी बाबूलाल ने कहा कि राजा के आने से पार्टी को फायदा कम नुकसान अधिक होगा।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ?भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???