Patrika Hindi News

सावन में नंदी के कान में कहें मन की बात पूरी होगी मुराद

Updated: IST the house, lord shiva, nandi, nandipur,ajaygarh ka
नंदी को भगवान शिव का दूत माना जाता है और हर शिव मंदिर के बाहर नदी की मूर्ति रखी जाती है।

आगरा। सावन में शिव को प्रसन्न करने में सभी लगे हैं। लेकिन, क्या आपको पता है कि भगवान शिव की अनुकंपा बिना नंदी के नहीं मिलती है। शिव की कृपा का पात्र तभी बन सकेंगे, जब नंदी के कानों में आप अपनी बात कहेंगे। मान्यता है कि भगवान शिव नंदी की हर बात को पूरा करते हैं। इसलिए अब अगर आप शिव मंदिर जाएं, तो नंदी के कानों में अपनी मनचाही मुराद पूरी कराने के लिए कहें।

उत्तम लोक की प्राप्ति
शास्त्रों में लिखा है कि जो शिव की कृपा का पात्र बन जाएगा। वो नीच गति से मुक्त होकर उत्तम लोक को प्राप्त करेगा। नंदी को भगवान शिव का दूत माना जाता है और हर शिव मंदिर के बाहर नदी की मूर्ति रखी जाती है। नंदी महाराज खुश होंगे तभी आपकी बात भगवान शिव तक पहुंचेगी। हम यह बात इस आधार पर कह रहे हैं कि शास्त्रों में बताया गया है कि भगवान शिव ने नंदी महाराज को वरदान दिया है कि जो भी व्यक्ति तुम्हारी कान में आकर अपनी मुराद बताएगा उसे मैं सुन लूंगा।

इसलिए कहें मन की बात
यही कारण है कि बहुत से लोग पूजा तो भगवान शिव की करते हैं लेकिन मुराद मांगने के लिए नंदी महारज की कान में जाकर अपनी बात कहते हैं।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???