Patrika Hindi News

तीसरी बेटी को दिया जन्म, तो ससुरालीजनों ने उठाया खौफनाक कदम 

Updated: IST murder
मृतका के भाई ने ससुरालीजनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है।

आगरा। पीएम मोदी द्वारा देश में बेटी बचाओ, बेटी पढाओ का संदेश दिया जा रहा है। जागरुकता मुहिम छेड़ी गई है, लेकिन समाज इस मुहिम को अपना नहीं पा रहा है। ऐसा ही एक मामला प्रकाश में आया थाना जैतपुर में, जहां महिला ने तीसरे बेटी को जन्म दिया, तो ससुरालीजनों ने उसकी जान ही ले ली। मृतका के भाई ने ससुरालीजनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है।

यहां का है मामला
थाना बाह के गांव मंगदपुर निवासी रामजीलाल की पुत्री बेटी का विवाह सात साल पहले थाना जैतपुर के गांव गढ़ीरामपुरा निवासी सुरेन्द्र सिंह के साथ हुआ था। मायका पक्ष के लोगों ने बताया कि शादी के बाद बेबी ने तीन पुतियों को जन्म दिया। उसकी बडी पुत्री आयुषी की उम्र पांच वर्ष हे, उससे छोटी पुत्री प्रांशी की उम्र चार वर्ष और तीसरी बेटी की उम्र दो वर्ष है। लगातार तीन बेटियों के जन्म के बाद से ससुरालीजन बेबी को ताना मारने लगे और इन तीन पुत्रियों के विवाह के लिए बेबी के परिजनों से दहेज की मांग करने लगे।

पहले की पिटाई और दबा दिया गला
मायका पक्ष के लोगों ने आरोप लगाया है कि बेबी ने लगातार तीन पुत्रियों को जन्म दिया, इससे ससुरालीजन आक्रोशित थे, उसे घर से निकालने की धमकी देते थे, इसके बाद दहेल की मांग शुरू कर दी। इसी के चलते ससुरालीजनों ने पहले उनकी बेटी के साथ मारपीट की। इसके बाद उसका गला दबाकर हत्या कर दी। घटना को अंजाम देने के बाद ससुरालीजन घर से फरार हो गए। पड़ोसियों द्वारा मायके वालों को खबर मिली, तो वे मौके पर पहुंचे। सूचना पर थाना जैतपुर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने शव को पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतका के भाई लवकुश की तहरीर के आधार पर पुलिस ने पति सुरेन्द्र सिंह, सास हरिप्यारी, ननद छोटी, ननदोई नवीन निवासी पुरा चौधरी के खिलाफ देहज हत्या की रिपोर्ट दर्ज की है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???