Patrika Hindi News

कच्छ-सौराष्ट्र में बाढ़ से हालात, 11 की मौत

Updated: IST ahmedabad
राज्य के सौराष्ट्र एवं कच्छ में पिछले तीन दिनों से हो रही भारी बारिश के कारण कई जगहों पर बाढ़ के हालात

अहमदाबाद।राज्य के सौराष्ट्र एवं कच्छ में पिछले तीन दिनों से हो रही भारी बारिश के कारण कई जगहों पर बाढ़ के हालात हो गए हैं। शनिवार और रविवार को बारिश संबंधित हादसों में 11 लोगों की मौत हो गई। तीन दिनों में प्रशासन की ओर से 2004 लोगों को स्थानान्तरण कर सुरक्षित स्थलों पर पहुंचाया गया। इनमें से पानी के बीच फंसे 405 लोगों को रेस्क्यू ऑपरेशन कर बचाया जा सका।

राजस्व मंत्री भूपेन्द्रसिंह चुडास्मा एवं जलापूर्ति मंत्री बाबूभाई बोखीरिया ने असरग्रस्तों के राहत बचाव के लिए रविवार को गांधीनगर में समीक्षा बैठक बुलाई। बनाए गए राज्य स्तरीय कंट्रोल रूम में पहुंचकर दोनों मंत्रियों ने निरीक्षण भी किया। मंत्री चुडास्मा के अनुसार गत शुक्रवार और शनिवार को विविध इलाकों में बारिश संबंधित दुर्घटनाओं में नौ जनों की मौत हो गई। इसमें गांधीनगर जिले की दहेगाम तहसील के पालुन्द्रा गांव निवासी एक जने की मौत हो गई।

इसके अलावा बनासकांठा जिले की दांतीवाड़ा तहसील के गुंदरी गांव, अरवल्ली जिले की मेघरज तहसील के सिसोदरा गांव, राजकोट जिले की लोधिका तहसील के जेताकुवा गांव, सुरेन्द्रनगर जिले की सायाला तहसील के धमरासण गांव, गिर सोमनाथ की उना तहसील के कोलवाण गांव, द्वारका जिले की खंभालिया तहसील के लापरडा गांव, जामनगर तहसील के कोजा गांव, सुरेन्द्रनगर एवं कच्छ के खत्राणा तथा पाटण जिले के चांदणसर गांव में एक-एक जने की मौत हो गई।

बारिश का जोर घटा

मंत्री चुडास्मा के अनुसार शुक्रवार एवं शनिवार के मुकाबले रविवार को बारिश का जोर कम हुआ है। सभी असरग्रस्त इलाकों में राहत बचाव कार्य जोरों है। असरग्रस्त क्षेत्रों में लोगों का स्थानान्तरण व रेस्क्यू ऑपरेशन से जानहानि को बचाया जा सका है।

अबडासा में 12 जोडिया में 10 इंच पानी गिरा

अहमदाबाद. राज्य के विविध भागों में रविवार सुबह साढ़े आठ बजे पूरे हुए 24 घंटों के दौरान सबसे अधिक 12 इंच बारिश कच्छ जिले की अबडासा तहसील व 10 इंच बारिश जामनगर की जोडिया तहसील में हुई। दोनों जगहों पर रविवार को बाढ़ जैसे हालात रहे। इन समेत राज्य की 129 तहसीलों में हल्की से भारी बारिश हुई। मौसम विभाग के अनुसार अबडासा तहसील में 322 मिलीमीटर बारिश हुई। इसके अलावा जोडिया में 260, सुरेन्द्रनगर जिले की चोटीला में 150, ध्रांगध्रा में 166, मोरबी में 161 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। जबकि कच्छ की भचाऊ तहसील में 106, भुज में 106, मांडवी में 111, वढवाण में 105, लोधिका में 117, टंकारा में 100, लालपुर में 112, कपराडा में 106, गिरगढड़ा में 116, तलाला में 106, वेरावळ में 105, पडधरी में 96, कालावड में 99, समेत तेरह तहसीलों में चार इंच के आसपास बारिश हुई। जबकि लखपत तहसील में 85, नखत्राणा में 80, विरमगाम में 94, हिम्मतनगर में 74, थानगढ़ में 87, भाणवड में 87, मांगरोल में 80, ऊना में 85, धरमपुर में 75, मालिया में 74 और मातर में 75 मिलीमीटर बारिश हुई। राज्य की इक्कीस तहसीलों में दो इंच से अधिक बारिश हुई वहीं 34 ऐसी तहसीलें हैं जहां एक इंच से दो इंच के बीच बारिश दर्ज की गई। इसके साथ ही राज्य में अब तक मौसम की औसतन 37.41 फीसदी बारिश पूरी हो गई।

कच्छ में सबसे अधिक

कच्छ में मौसम की 51.24 फीसदी बारिश रविवार तक हो गई। राज्य में यह सबसे अधिक है। इसके अलावा गुजरात रीजन में 39.89 फीसदी, पूर्व मध्य गुजरात में 27.65, सौराष्ट्र में 43.34 तथा दक्षिण गुजरात में मौसम की अब तक 34.34 फीसदी बारिश हो गई।

मौसम की 37.41 फीसदी बारिश पूरी

राज्य में मौसम की औसतन 810 मिलीमीटर बारिश के मुकाबले अब तक 303 मिलीमीटर बारिश हो गई। यह मौसम की 37.41 फीसदी है। पिछले वर्ष इस समय अवधि तक 21.20 फीसदी ही बारिश हुई थी।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???