Patrika Hindi News

पाटीदार हो सकता है प्रतिपक्ष का नेता

Updated: IST ahmedabad
राज्य विधानसभा चुनाव के नजदीक आते ही कांग्रेस में राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो गई हैं। पाटीदारों को

अहमदाबाद।राज्य विधानसभा चुनाव के नजदीक आते ही कांग्रेस में राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो गई हैं। पाटीदारों को रिझाने के लिए जहां कई विधायकों ने किसी पाटीदार नेता को वहीं कई विधायकों ने वाघेला को मुख्यमंत्री पद का दावेदार बनाए जाने की आवाज बुलंद की।

उधर वाघेला ने पार्टी के समक्ष यह प्रस्ताव रखा है कि यदि किसी पाटीदार नेता को प्रतिपक्ष का नेता बनाया जाता है तो वे यह पद छोडऩे को तैयार हैं। हालांकि आलाकमान किसी भी विधायक को इस पद पर बिठा सकती है। इस संबंध में संसदीय बोर्ड फैसला करेगा। मंगलवार शाम गांधीनगर में वाघेला के आवास पर अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महामंत्री और गुजरात प्रभारी गुरुदास कामत की मौजूदगी में आयोजित बैठक में वाघेला को मुख्यमंत्री पद का दावेदार बनाने की सुगबुगाहट भी उठी।

कांग्रेस इस बार गुजरात में सत्ता काबिज करने को लेकर नया दाव खेल सकती है। इस बार यह संभावना जताई जा रही है मुख्यमंत्री के प्रत्याशी के नाम की घोषणा कर उसके नाम पर विधानसभा चुनाव में उतर सकती है। इसमे सबसे ज्यादा चर्चित नाम शंकरसिंह वाघेला का सामने आ रहा है। यदि वाघेला को मुख्यमंत्री का प्रत्याशी बनाया जाता है तो पाटीदारों को रिझाने के लिए अमरेली के युवा विधायक परेश धानाणी और जामनगर ग्राम्य से वरिष्ठ विधायक राघवजी पटेल को प्रतिपक्ष के जिम्मेदारी सौंप सकती है।

उधर, गुजरात प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष भरतसिंह सोलंकी ने कई कांग्रेसी विधायकों के वाघेला को मुख्यमंत्री का प्रत्याशी बनाए जाने के सवाल पर कहा कि विधायकों को अपना विचार रखने का अधिकार है। सोलंकी के दावा किया कि अगले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस सत्ता पर काबिज होगी।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???