Patrika Hindi News

वर्ष 2022 तक ऑयल और गैस के आयात में 10 फीसदी तक कटौती

Updated: IST ahmedabad
वर्ष 2022 तक भारत ऑयल एवं गैस के आयात में 10 फीसदी की कटौती करने की दिशा में कदम बढ़ा रहा है।

अहमदाबाद।वर्ष 2022 तक भारत ऑयल एवं गैस के आयात में 10 फीसदी की कटौती करने की दिशा में कदम बढ़ा रहा है। ऊर्जा के लिए बेहतर रणनीति बनाने की जरूरत है। इस सेक्टर को आगे बढ़ाकर ऊर्जा की उपलब्धि, ऊर्जा सुरक्षा, ऊर्जा कार्यक्षमता किफायती दाम के साथ ऊर्जा के चार स्तंभों से गुजरात मॉडल काफी अहम साबित हुआ है। इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (आईओसी) के अध्यक्ष बी. अशोक एक समारोह में संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि ऑयल व गैस की आयात घटाना और आत्मनिर्भरता बढ़ाने एक अहम कदम है। ऊर्जा खपत के बास्केट में गुजरात का अलग स्थान है। ऊर्जा की स्थिति काफी अटपटी है। दुनिया में ऊर्जा पोर्टफोलियो में गैस 25 फीसदी है। भारत में औसतन 6.5 फीसदी है और उसमें गुजरात का हिस्सा 25 फीसदी है। ऊर्जा की आवक सिर्फ 20 फीसदी है। जबकि 80 फीसदी ऊर्जा आयात की जाती है।

अशोक ने कहा कि ऑयल इंडस्ट्रीज बढ़ती मांग को पूरा करने की दिशा में कठिन परिश्रम कर रही है। आईओसी भी मांग बढ़े उससे पहले ही विभिन्न प्रोजेक्टों में निवेश कर रही है। नोटबंदी के मुद्दे पर अशोक ने कहा कि ऑयल क्षेत्र की शीर्ष कम्पनियों का कैशलेस सेगमेन्ट 30 फीसदी तक बढ़ा है। कंपनी कैशलेस बिक्री को प्रोत्साहित कर रही है।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
More From Ahmedabad
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???