Patrika Hindi News

कल्याण के गढ़ को भेदने की तैयारी में बसपा प्रत्याशी

Updated: IST BSP Candidate camp office
बसपा ने अतरौली विधानसभा से मुस्लिम समाज के इलियास चौधरी को टिकट दिया है।

अलीगढ़। हिंदुत्व को धार देने वाले यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह का गढ़ माना जाता है अतरौली विधानसभा क्षेत्र। जिसे 2012 में सपा के वीरेश यादव ने ढहाया था। वीरेश ने कल्याण सिंह की पुत्रवधू प्रेमलता को हराकर इतिहास रचा था। अब उसी गढ़ में बसपा सुप्रीमो मायावती ने कल्याण सिंह के परिवार को चुनौती देने की तैयारी तेज कर दी है।

दलित मतदाताओं की संख्या भी निर्णायक

बसपा ने अतरौली विधानसभा से मुस्लिम समाज के इलियास चौधरी को टिकट दिया है। इलियास चौधरी को टिकट मिलने से मुस्लिम मतदाताओं में खुशी है तो वहीं जाट मतदाता भी बसपा के खेमे में जाता दिख रहा है। अतरौली में दलित मतदाताओं की संख्या भी निर्णायक की भूमिका में है।

बसपा में जा सकता है ब्राह्मण समाज

इस बार बड़ी बात यह भी होगी कि भाजपा के राजेश भारद्वाज को जेल जाने वाले प्रकरण में राजस्थान राज्यपाल कल्याण सिंह के बेटे और एटा सांसद राजवीर सिंह राजू पर ब्राह्मण समाज ने अंगुली उठाई थी। सब कुछ यदि ऐसा ही रहा तो ब्राह्मण समाज भी एकजुट होकर कल्याण परिवार को नुकसान देने के लिए बसपा की ओर मुड़ सकता है। हालांकि सियासत में किसे कितना मिलेगा कहा नहीं जा सकता। लेकिन इस बार अलीगढ़ की सबसे हॉट सीट अतरौली पर इलियास चौधरी के जरिये बसपा ने बड़ी चुनौती कल्याण परिवार के सामने कड़ी कर दी है।

न तो विकास कराया और न ही नेतृत्व दिया

बसपा प्रत्याशी इलियास चौधरी कहते हैं कि अतरौली ने कल्याण सिंह को मुख्यमंत्री बनाया लेकिन बदले में उसे सिर्फ उपेक्षा ही मिली है। वह कहते हैं कि कल्याण सिंह ने क्षेत्र का न तो विकास कराया और न ही यहां नेतृत्व खड़ा होने दिया। इस बार आमजन बसपा को चुनेगा और क्षेत्र के विकास की राह खोलेगा। उन्होंने कहा कि अतरौली का सर्व समाज बसपा के साथ है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???