Patrika Hindi News

कांवर यात्रा के चलते ढाई घंटे का सफर 10 घंटे में तय करने को मजबूर यात्री

Updated: IST Kawad Yatra
इलाहाबाद और वाराणसी रुट वन वे होने से आई समस्या

इलाहाबाद. कांवरियों की यात्रा के चलते रोडवेज यातायात पर काफी बुरा असर पड़ा है। रोडवेज यात्रियों को ढाई घंटे का सफर 10 घंटे में तय करना मजबूरी बन गई। लोग रोडवेज में खुद को फंसा हुआ महसूस कर रहे हैं।

दरअसल सावन में कांवरियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए प्रशासन की ओर से इलाहाबाद से वाराणसी के बीच के एक रूट को बंद कर दिया गया है। ताकि की कांवरियों के साथ कोई हादसा न हो सके। सुरक्षा के मद्देनजर इलाहाबाद और वाराणसी के एक वनवे होने से एक ही सड़क से दोनों तरफ की गाडियों का आवागमन हो रहा है। इसके चलने के वाराणसी और इलाहाबाद के बीच जगह-जगह घंटों जाम लग रहा है। स्थिति यह है कि रास्ते में पड़ने वाले विभिन्न चौक-चौराहों पर गली-मोहल्ले में भी गाड़ियों की लंबी कतार लग रही है। इसका खामियाजा सबसे ज्यादा वाराणसी और इलाहाबाद के लिए सफर करने वाले बस यात्रियों को भुगतना पड़ रहा है। जो यात्रा पहले ढाई घंटे में पूरी करते थे अब 10 घंटे से भी ज्यादा समय में पूरा कर रहे हैं। कल भी काफी बसें अपने निर्धारित समय से 9 से 10 घंटे विलंब इलाहाबाद पहुंची।

डाइवर्ट रुट पर हर एक किमी पर जाम

दरअसल बड़ों को वाराणसी से कसपेथी के पास और इलाहाबाद से सहसों से थरवई, फाफामऊ के रास्ते बसों को डायवर्ट किया जा रहा है। इस डायवर्ट रूट में भी हर घंटे जाम लग रहा है। इस जाम के कारण लोगों को काफी परेशानी उठानी पड़ रही है। समय पर बसों के नहीं पहुंचने से लोगों का जो काम आज होना था वो नहीं हो पायेगा।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???