Patrika Hindi News
UP Scam

आचार संहिता का पालन कराने में प्रशासन की यहां कोई नहीं है दिलचस्पी

Updated: IST ambedkarnagar
विधानसभा चुनाव की घोषणा के बाद से ही प्रदेश में आदर्श आचार संहिता लागू है। जिसका पालन कराने की पूरी जिम्मेदारी प्रशासन पर है

अम्बेडकर नगर. विधानसभा चुनाव की घोषणा के बाद से ही प्रदेश में आदर्श आचार संहिता लागू है। जिसका पालन कराने की पूरी जिम्मेदारी प्रशासन पर है। आचार संहिता का पालन कराने के लिए हर क्षेत्र में सेक्टर मजिस्ट्रेट और स्टेटिक मजिस्ट्रेट की भी तैनाती की गई है, लेकिन जिले के टांडा विधानसभा क्षेत्र में आचार संहिता का पालन कराने में कोई खास दिलचस्पी नहीं दिखा रही है। आचार संहिता का पालन कराने के नाम पर प्रशासन की तरफ से टांडा विधानसभा क्षेत्र के मुख्य सड़कों पर लगाए गए बोर्ड और होर्डिंग को हटाने के अलावा कुछ जगहों पर वाहन चेकिंग कर अपने मामले की इतिश्री करती दिखाई पड़ रही है, जबकि टांडा नगर के ही कई मुहल्लों में खुले आम सार्वजनिक स्थलों, बिजली के खंभों आदि पर पार्टी के प्रचार प्रसार करने वाले बैनर पोस्टर और वाल रायटिंग खुले आम देखे जा सकते हैं।

एक चैनल के पब्लिक डिबेट में जमकर उड़ाई गई आचार संहिता की धज्जियां

टांडा नगर क्षेत्र में स्थित कौमी इंटर कॉलेज के मैदान में एक प्राइवेट चैनल की तरफ से पब्लिक डिवेट का आयोजन किया गया था, जिसमें सपा बसपा भाजपा और कांग्रेस के प्रतिनिधियों के अलावा एआईएमआई के प्रतिनिधि और उनके सैकड़ों समर्थकों का जमावड़ा किया गया था। थोड़ी देर तक तो सभी प्रतिनिधि संयमित भाषा में एंकर के सवालों का जवाब देते रहे, लेकिन उसके बाद तो एमआईएम के प्रतिनिधि की तरफ से खुले आम एक वर्ग विशेष के लिए किये गए कार्यों और टांडा में हुए पिछले दंगों की चर्चा छेड़ कर खुले आम माहौल को गरमाने का प्रयास किया गया और उसके बाद तो खुलकर एक दूसरे के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी।

ambedkarnagar

मौके से पुलिस और प्रशासन का कैमरा नदारद

चैनल की तरफ से आयोजित डिबेट के लिए प्रशासन ने अनुमति देते हुए पुलिस को मौके पर शांति व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया था, लेकिन मौके पर एक भी पुलिसकर्मी मौजूद नहीं था। इसके अलावा चुनाव आयोग का स्पष्ट निर्देश है कि किसी भी चुनावी कार्यक्रम की पूरी रिकार्डिंग होनी चाहिए, लेकिन प्रशासन की तरफ से इस कार्यक्रम की रिकार्डिंग के लिए भी किसी को नियुक्त नहीं किया गया था और इसी वजह से डिबेट में शामिल कुछ लोगों ने जमकर आचार संहिता की धज्जियां उड़ाई।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? निःशुल्क रजिस्टर करें ! - BharatMatrimony
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???