Patrika Hindi News
Bhoot desktop

Video Icon योगी जी, इस महिला के दर्द को सुनिये, पति ने मैसेज में ही भेज दिया तलाक!

Updated: IST Talaq
पति ने मोबाइल से मैसेज भेज कर तलाक देने की बात करते हुए भारत में आकर चुपके से दूसरी शादी कर ली

अम्बेडकर नगर.मुस्लिम महिलाओं को एक साथ तीन तलाक देने के मामले में पूरे देश में बहस छिड़ी हुई है और इससे पीड़ित महिलाएं कानून बनाकर दोषियों के खिलाफ कार्यवाही करने के लिए कानून बनाने की मांग कर रही हैं। अम्बेडकर नगर जिले में भी तीन तलाक का एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसे सुनकर हर कोई हैरान है। इस मामले में सऊदी अरब में नौकरी कर रहे एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी को सऊदी अरब से ही मोबाइल से मैसेज भेज कर तलाक देने की बात करते हुए भारत में आकर चुपके से दूसरी शादी कर ली और यह भी जानना जरूरी नहीं समझा कि जिस मैसेज से तलाक दिया है, वह मैसेज उसकी पत्नी पढ़ भी पाई या नहीं। अब यह महिला अपने डेढ़ साल के बेटे के साथ दर दर की ठोकरें खाने को मजबूर है और इस मामले में सरकार से सख्त से सख्त कार्यवाही की मांग कर रही है।

देखें वीडियो-

अम्बेडकर नगर जिले के जहांगीर गंज थाना क्षेत्र के उधरन पुर गांव की 26 वर्षीय इस महिला शबीना खातून की शादी 2014 में जौनपुर जिला के खुटहन थाना क्षेत्र में हुई थी। महिला का आरोप है कि शादी के कुछ ही दिन बाद उसके ससुराल के लोग उसे मारते पीटते थे और दहेज की मांग करते थे, जिसमें उसका पति भी शामिल था। शादी के तीन महीने बाद उसका पति कमाने के लिए सऊदी अरब जाने लगा तो शबीना को मायके भेज दिया। जिसके बाद से ही शबीना अपने मायके में ही अपने मां-बाप के साथ रह रही है। मायके में आने के बाद एक बेटा भी शबीना को पैदा हुआ जो अब डेढ़ साल का है।

जनवरी में शबीना के पति ने सऊदी अरब से वापस आकर यहां चुपके से दूसरी शादी कर ली, जिसकी जानकारी शबीना को कुछ दिन बाद पता चली और वह अपने मां-बाप के साथ ससुराल पहुंच गई। जहां उसके पति ने उसे बताया कि वह 23 जनवरी को ही सऊदी अरब से मोबाईल पर मैसेज भेज कर तलाक दे दिया है, जबकि शबीना का कहना है कि न तो उसे कोई मैसेज मिला है और न ही वह मैसेज पढ़ना जानती है।
शबीना के पति कैंसर ने यह जानना भी जरूरी नहीं समझा कि जो तलाक का जो मैसेज उसने भेजा, वह शबीना को मिला भी कि नहीं और सीधे अपने गांव आकर दूसरी शादी कर ली। शबीना अब इसको लेकर कानूनी लड़ाई करने की तैयारी कर ली है, जिसके लिए वह अपर पुलिस अधीक्षक से मिलकर अपने पति और उसके परिवार के लोगों के खिलाफ शिकायत दी है। अपनी व्यथा व्यक्त करते हुए शबीना ने कहाकि जिस तरह से उसके पति ने उसके साथ किया है और मासूम बेटे का भी ख्याल नहीं किया, इसके लिए सरकार को चाहिए कि सख्त कानून बनाकर उसे कड़ी से कड़ी सजा मिले। शबीना बताती है कि उसके ससुराल में छोटे बड़े सभी उसे घसीट घसीट कर मरते थे और घर से भाग जाने के लिए कहते थे।

दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है इस परिवार पर

जब से शबीना के माता पिता को शबीना के तलाक की जानकारी हुई है, तब से यह पूरा परिवार सदमे में है। शबीना की मां समय से पहले ही रोते रोते बूढ़ी नजर आने लगी हैं । पिता अब्दुल सलाम बताते हैं कि उनकी तीन बेटियां और तीन बेटे हैं, जिसमें से वे अपनी दो बेटियों की शादी कर चुके थे, लेकिन अब शबीना के साथ यह वाकया उन्हें तोड़ कर रख दिया है। उनका कहना है कि गरीबी के कारण वह भिवंडी में पावर लूम चलाकर गुजारा कर रहे थे। यहां तक कि उनका घर भी नहीं बन पाया था और अभी एक बेटी की शादी करनी है। शबीना के पिता ने प्रधानमंत्री से मांग करते हुए कहा कि इस तरह से जो लोग बहन बेटियों के साथ धोखे से तलाक देकर उनकी जिंदगी बर्बाद कर रहे हैं, उनके लिए कानून बनाकर उन्हें कड़ी से कड़ी सजा दी जानी चाहिए, जिससे और किसी बेटी के साथ ऐसा न होने पाए।

इस मामले में कानूनी कार्यवाही के लिए शबीना ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंच कर अपर पुलिस अधीक्षक से अपनी शिकायत भी कर दी है। अपर पुलिस अधीक्षक राम मोहन सिंह ने बताया कि शबीना का प्रार्थना पत्र उन्हें मिला है, जिसमें उन्होंने बताया है कि उनके पति ने दूसरी शादी कर ली है और उससे पहले ही उन्हें एसएमएस के जरिये तलाक दे दिया है।उन्होंने बताया कि इस मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच की जा रही है और जो तथ्य सामने आयेंगे उसके अनुसार कार्यवाही की जाएगी।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???