Patrika Hindi News

> > > Nawaz Sharif hands over dossier on ‘human rights violations’ in Kashmir

पाक ने दिया "कश्मीर में मानवाधिकारों के उल्लंघन" का डोजियार 

Updated: IST human rights violations’ in Kashmir
नवाज शरीफने बुधवार की रात बान से कश्मीरी लोगों की कथित दयनीय स्थिति से अवगत कराया।

न्यूयार्क। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून को एक डोजियर पेश किया है जिसमें कश्मीर में कथित मानवाधिकार उल्लंघनों का विस्तृत ब्यौरा है।

डॉन ऑनलाइन की रिपोर्ट के मुताबिक,नवाज शरीफने बुधवार की रात बान से कश्मीरी लोगों की कथित दयनीय स्थिति से अवगत कराया। शरीफ ने उनसे कहा कि कश्मीरी उस क्षेत्र में भारतीय बर्बरता के शिकार हैं। यह गत आठ जुलाई को हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी के मारे जाने के बाद से निर्बाध रूप से जारी है। वानी के मारे जाने के बाद हिंसक प्रदर्शन एवं झड़पें शुरू हो गई थीं।

नवाज ने बान से कहा कि अंधाधुंध ढंग से पेलेट गन के इस्तेमाल के कारण महिलाओं और बच्चों सहित सैकड़ों लोग अंधे हो गए हैं। यह भारतीय सुरक्षा बलों की बर्बर मानसिकता को प्रदर्शित करता है।

शरीफ ने आरोप लगाया कि भारत का कफ्र्यू, कश्मीरी नेताओं को जेल में डालने और विशेष तौर पर पेलेट गन से घायलों का इलाज करने से इनकार जैसे दमनात्मक उपायों का सहारा लेना जारी है। डोजियर में सबूत के तौर पर पेलेट गन से घायल लोगों की तस्वीर भी लगाई गई है।

प्रधानमंत्री शरीफ ने कहा है कि कश्मीर पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों का भारत से हर हाल में पालन करने का आग्रह किया जाए। उन्होंने न्यायेतर हत्याओं की स्वतंत्र जांच कराने और सच्चाई का पता लगाने के लिए संयुक्त राष्ट्र की एक टीम को भेजने पर जोर दिया है।

शरीफ ने कश्मीर की स्थिति पर सख्त और समर्थन वाले बयान के लिए संयुक्त राष्ट्र प्रमुख को धन्यवाद दिया। बान ने संयुक्त राष्ट्र में सक्रिय एवं महत्वपूर्ण भूमिका और उसकी शांति एवं सुरक्षा के लिए योगदान के लिए पाकिस्तान की सराहना की है। न्यूयार्क स्थित संयुक्त राष्ट्र महासभा में शरीफ के संबोधन के बाद उनकी महासचिव बान से मुलाकात हुई।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे