Patrika Hindi News

ग्राहक की जेब से गायब हुए रुपए, बैंक ने फु टेज दिखाने के मांगे पैसे

Updated: IST State Bank of India, the consumer,
ईसागढ़. बैंक में रुपए जमा कराने पहुंचे एक ग्राहक की जेब से 7 हजार रुपए गायब हो गए। हालांकि रुपए कहां गायब हुए इस बारे में ग्राहक को भी कुछ पता नहीं है।

ईसागढ़. बैंक में रुपए जमा कराने पहुंचे एक ग्राहक की जेब से 7 हजार रुपए गायब हो गए। हालांकि रुपए कहां गायब हुए इस बारे में ग्राहक को भी कुछ पता नहीं है। खास बात यह है कि बैंक में रुपए जमा करने गए पीडि़त ग्राहक ने जब बैंक अधिकारियों से सीसीटीवी फुटेज दिखाए जाने की बात कही तो नियमों का हवाला देते हुए बैंक अधिकारियों ने पीडि़त से पहले तीन हजार रुपए की धनराशि जमा करने की बात कही।

इसके बाद ग्राहक वापस अपने घर आ गया और जन प्रतिनिधियों के हस्तक्षेप के बाद बैंक अधिकारी पीडि़त को सीसीटीवी फुटेज दिखाने को तैयार हो गए। बावजूद इसके पीडि़त को गुरुवार की शाम तक सीसीटीवी फु टेज नहीं मिल सकी। ईसागढ़ निवासी रामकिशोर शर्मा ने बताया कि बुधवार को वह घर से 23 हजार रुपए लेकर बैंक रवाना हुए थे। सबसे पहले वह बस स्टैंड स्थित मध्यांचल ग्रामीण बैंक की शाखा में पहुंचे और 14 हजार रुपए की राशि अपने खाते में जमा कराई। इसके बाद शेष 9 हजार रुपए लेकर वह स्टेट बैंक की शाखा में पहुंचे। लेकिन ज्यादा भीड़ होने से वह रुपए जमा नहीं करा सके और वापस घर लौट आए। जब उन्होंने घर आकर अपनी जेब से रूपए निकाले तो 9 हजार के स्थान पर महज 2 हजार रुपए ही निकले, शेष 7 हजार रुपए की राशि उनकी जेब से गायब थी। फ ौरन वह मध्यांचल ग्रामीण बैंक की शाखा पहुंचे और सीसीटीवी फु टेज देखी। जहां उनके साथ किसी भी तरह की घटना नहीं होने की पुष्टि हुई। इसके बाद वह एसबीआई की शाखा पहुंचे और शाखा प्रबंधक को पूरी घटना की जानकारी देते हुए सीसीटीवी फु टेज दिखाने का निवेदन किया। जानकारी के अनुसार पहले तो शाखा प्रबंधक सीसीटीवी फु टेज दिखाने को तैयार हो गए। लेकिन बैंक में कार्यरत दूसरे अधिकारी ने सीसीटीवी फुटेज दिखाने के लिए 3 हजार रुपए बैंक के खाते में जमा करने की बात कही।

पीडि़त ने बताया कि उसने इतने रूपए देने में असमर्थता जाहिर की तो बैंक अधिकारी 18 00 रुपए जमा करने की बात कहने लगे। साथ ही उन्होंने बताया कि अगर उनके साथ वाकई बैंक में कोई घटना हुई है तो उन्हें बाकायदा जमा की हुई रकम वापस मिल जाएगी और अगर सीसीटीवी फु टेज में उनके साथ कोई घटना देखने को नहीं मिली तो बैंक में जमा की गई उनकी रकम जब्त कर ली जाएगी। इतना सुनते ही पीडि़त वापस अपने घर लौट आया। जन प्रतिनिधियों के हस्तक्षेप के बाद बैंक अधिकारी पीडि़त को सीसीटीवी फु टेज दिखाने को तैयार हो गए लेकिन गुरुवार की देर शाम तक पीडि़त को सीसीटीवी फु टेज देखने को नहीं मिल सकी थी।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???