Patrika Hindi News

पाक सूफी दरगाह में हुए धमाके में 100 से ज्यादा मौतें; 300 घायल, ISIS ने ली जिम्मेदारी

Updated: IST Blast in Pak
पाकिस्तान के सिंध प्रांत के सेहवान कस्बे में स्थित लाल शहबाज कलंदर दरगाह परिसर में गुरुवार को हुए विस्फोट में 100 से ज्यादा मौतें हो गई हैं। जबकि घायलों की संख्या 300 पहुंच गई है। हालांकि 'जीयो न्यूज' की रिपोर्ट में मृतकों की संख्या 74 बताई जा रही है। जबकि 'डॉन' मृतकों की संख्या 75 बता रहा है।

नई दिल्ली/ कराची। पाकिस्तान के सिंध प्रांत के सेहवान कस्बे में स्थित लाल शहबाज कलंदर दरगाह परिसर में गुरुवार को हुए विस्फोट में 100 से ज्यादा मौतें हो गई हैं। जबकि घायलों की संख्या 300 पहुंच गई है। हालांकि 'जीयो न्यूज' की रिपोर्ट में मृतकों की संख्या 74 बताई जा रही है। जबकि 'डॉन' मृतकों की संख्या 75 बता रहा है। आतंकी हमले की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट ने ली है।
मृतकों में 60 पुरुष, छह बच्चे शामिल
अस्पताल सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि मृतकों में 60 पुरुष, चार महिलाएं और छह बच्चे हैं। 36 शवों को उनके परिजनों को सौंप दिया गया है। जबकि 34 से ज्यादा शवों की अभी तक शिनाख्त नहीं हो पाई है।

घायलों का चल रहा है इलाज
अस्पताल में 190 घायल पुरुषों, 11 महिलाओं और नौ बच्चों का इलाज किया जा रहा है। जबकि गंभीर रूप से घायल 41 लोगों को दूसरे अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया है।

अमरीका ने की आतंकी हमले की निंदा, किया साथ खड़े होने का वादा
अमरीका ने पाकिस्तान की सूफी दरगाह पर हुए आतंकी हमले की निंदा की है। विदेश मंत्रालय के कार्यवाहक प्रवक्ता मार्क टोनर ने कहा, ‘हम आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में पाकिस्तान के लोगों के साथ खड़े हैं और दक्षिण एशिया क्षेत्र की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध हैं।’ उन्होंने कहा, ‘हम पाकिस्तान की सरकार और इस क्षेत्र में हमारे सहयोगियों के साथ मिलकर आतंकवाद के खतरे का मुकाबला करते रहेंगे।’

दरगाह में चल रहा था सूफी अनुष्ठान
सेहवान के सहायक पुलिस अधीक्षक ने कहा कि एक आत्मघाती हमलावर गोल्डन गेट से होकर लाल शहबाज कलंदर दरगाह में दाखिल हो गया। एक हथगोला फेंकने के बाद हमलावर ने खुद को उड़ा लिया। शक की सुई आईएसआईएस की ओर जा रही है। तालुका अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक मोईनुद्दीन सिद्दीकी ने 'डॉन' से अस्पताल में कम से कम 75 शव लाए जाने और कई लोगों के घायल होने की पुष्टि की। विस्फोट दरगाह परिसर में उस जगह पर हुआ, जहां सूफी अनुष्ठान 'धमाल' चल रहा था।

विस्फोट के बाद दरगाह परिसर में मची भगदड़

विस्फोट के समय दरगार में बड़ी संख्या में श्रद्धालु मौजूद थे। इनमें महिलाएं व बच्चे भी शामिल थे। धमाके के बाद दरगाह परिसर में भगदड़ मच गई। बचावकर्मियों ने घायलों को एक निकटवर्ती अस्पताल में भर्ती कराया। अकेले तालुका अस्पताल में 250 से अधिक घायलों को भर्ती कराया गया है। घटना के बाद पुलिस की टुकड़ी घटनास्थल पर पहुंच गई, जो सिंध के दादू जिले के सुपर हाईवे से कुछ दूरी पर स्थित है। सूफी संत की दरगाह में धार्मिक रस्मों के लिए हर गुरुवार को सैकड़ों की तादाद में लोग इकट्ठा होते हैं।

sehwan3

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? निःशुल्क रजिस्टर करें ! - BharatMatrimony
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???