Patrika Hindi News

> > > > Ayodhya Ram Vivah Mahotsav 2016 Story In Hindi

UP Election 2017

Photo Icon रामनगरी में बिखरा रामविवाह महोत्सव का उल्लास देखें तस्वीरें

Updated: IST Ram Vivah Mahotsav 2016
अयोध्या के हजारों मंदिरों से भगवान श्रीराम की बारात निकलेगी इसके लिए मंदिरों में तैयारियां पूरी की जा रही है वही हल्दी मेहंदी और विवाह के अन्य रस्मों में शामिल होकर रामभक्त बाराती भक्ति रस में झूम रहे

अयोध्या | मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम की पावन नगरी अयोध्या में इन दिनों एक अलग ही रंग ढंग देखने को मिल रहा है और धार्मिक नगरी एक अजब उल्लास में दिखाई दे रही है और आखिर हो भी क्यूँ न जब दशरथनंदन राजकुमार राम का विवाहोत्सव शुरू हो गया हो तो अयोध्या वासियों के मन में उल्लास और उमंग होना लाजमी है धार्मिक नगरी के मंदिरों में इन दिनों उल्लास छाया हुआ है भगवान श्री राम के विवाह महोत्सव की खुशियों में हर कोई झूम रहा है भगवान श्री राम का विवाह 4 दिसंबर को होगा लेकिन उससे पूर्व हल्दी मेहंदी और अन्य वैवाहिक रस्मों में बड़ी तादाद में लोग शामिल होकर पुण्य के भागी बन रहे हैं अयोध्या के तमाम प्रमुख मंदिरों में राम विवाह के महोत्सव पर धार्मिक आयोजन भी चल रहे हैं ।

Janaki Mahal Ayodhya

मंगल गीतों पर थिरक रहे हैं बाराती

4 दिसंबर दिन रविवार को मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम की पावन नगरी अयोध्या के हजारों मंदिरों से भगवान श्रीराम की बारात निकलेगी इसके लिए मंदिरों में तैयारियां पूरी की जा रही है वही हल्दी मेहंदी और विवाह के अन्य रस्मों में शामिल होकर रामभक्त बाराती भक्ति रस में झूम रहे हैंक्या है अजब रंगदारी, ललन ससुरारी की गारी,बड़े भाग बन आए जनकपुर, पायो सरहज सारी.’ के गारी गान के साथ वैष्णव नगरी अयोध्या इन दिनों जनकपुर में तब्दील हो गई है। भगवान सीताराम की ही तरह से वर एवं वधू पक्ष के पक्ष के बीच अंतर करना ही मुश्किल है। विवाहोत्सव की धूम संत समाज से लेकर श्रद्धालुओं की जमात दोनों ही पक्ष में खड़े होकर आनंदोत्सव में डूब गए हैं।

Ram Vivah Mahotsav

अगहन पंचमी की मंगल बेला की प्रतीक्षा कर रहे बाराती

अगहन पंचमी के पर्व पर चार दिसम्बर को आयोजित होने वाले मुख्य विवाह के उत्सव से पहले अलग-अलग मंदिरों में आचार्य परम्परा के अनुसार अलग-अलग तिथियों में उत्सव का शुभारम्भ हुआ। इसी श्रृंखला में रामार्चा पूजन व गणेश पूजन एवं जनकनंदिनी के जन्मोत्सव के साथ गुरुवार को जानकी महल एवं रामहर्षण कुंज में उत्सव का शुभारम्भ हो गया। इसी के साथ राम सखी मंदिर व दिव्यकला कुंज में भी गुरुवार से ही रामलीला मंचन के साथ उत्सव का शुभारम्भ हो गया है।

युगल सरकार की अदभुद छवि देख निहाल हो रहे श्रद्धालु

आपको बताते चलें कि धार्मिक नगरी अयोध्या के कनक भवन, दशरथ राजमहल बड़ा स्थान, विअहुति भवन,प्राचीन रंगमहल रामहर्षण कुंज, हनुमानबाग, लक्ष्मणकिला, राम सखी मंदिर व दिव्यकला कुंज इन सभी स्थानों से चार दिसम्बर को भगवान राम सहित दशरथ नंदन कुमारों की भव्य बारात निकाली जाएगी। जिन मंदिरों से बारात नहीं भी निकाली जानी है लेकिन उपासना की दृष्टि से वहां भी विवाहोत्सव का आयोजन किया जा रहा है।

Ram Vivah Mahotsav

अयोध्या के इन मंदिरों में छाया है राम विवाह उत्सव का उल्लास

रामवल्लभाकुंज, मणिराम छावनी, जानकीघाट बड़ा स्थान, हनुमत निवास, हनुमत सदन, समथर मंदिर, सदगुरु बधाई भवन, साकेत भवन, मिथिला मणि मंडप, सियाराम किला, रसमोद कुंज, विदेह दूल्हा कुंज व श्रृंगार कुंज सहित अन्य मंदिरों में भी उत्सव का शुभारम्भ विवाह पदावलियों के गायन के साथ प्रारम्भ हो गया है। इसी कड़ी में शुक्रवार को जहां विअहुति भवन में भगवान राम सहित चारो भाईयों का तिलकोत्सव आयोजित किया जाएगा। वहीं रामहर्षण कुंज व रंगमहल में किशोरीजी का हल्दी उत्सव का आयोजन किया जाएगा। जानकी महल में अत्यंत मनोरम फुलवारी लीला का भव्य मंचन भी होगा। इसके साथ ही विवाह गीतों के साथ बन्नी-बन्ना के गीतों के मनमोहन नृत्य की प्रस्तुतियां भी की जाएंगी और इस पूरे सप्ताह धार्मिक नगरी में राम विवाह महोत्सव की धूम रहेगी |

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???