Patrika Hindi News

छात्रसंघ चुनाव: दो गुटों में जमकर बवाल और फायरिंग, पिस्टल सहित छात्रनेता गिरफ्तार 

Updated: IST student union election
कॉलेज परिसर में फायरिंग से छात्रों में अफरा-तफरी...

आजमगढ़.छात्रसंघ चुनाव की अभी घोषणा होना बाकी है और चुनाव की तैयारी में जुटे छात्रनेता अभी से छात्रों के बीच अपनी पैठ बनानी शुरू कर दिए हैं। बरदह पीजी कालेज परिसर में छात्रों के बीच पहुंचकर उनसे समर्थन मांगने की होड़ में उतरे दो छात्र नेताओं के गुट मंगलवार की दोपहर आमने-सामने हो गए। उनके बीच शुरू हुई कहासुनी देखते ही देखते मारपीट में तब्दील हो गई। लाठी-डंडे व हथियारों से लैस एक गुट का तांडव देख कालेज परिसर में अफरा-तफरी मच गई। सूचना पाकर मुकामी पुलिस वहां पहुंची तो परिसर का दृश्य देख अवाक रह गई। इसी बीच पुलिस के सामने एक पक्ष द्वारा की गई फायरिंग के बाद मौके पर भगदड़ की स्थिति उत्पन्न हो गई। पुलिस हरकत में आई और एक छात्रनेता को पिस्टल के साथ गिरफ्तार कर लिया।

बरदह स्थित श्री गांधी पीजी कालेज में छात्रसंघ अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे खरांट गांव निवासी प्रांशू राय व चौकी ग्राम निवासी प्रांजल राय मंगलवार दोपहर अपने समर्थकों के साथ छात्रों से मिलकर उनसे समर्थन मांग रहे थे। इसी बीच दोनों छात्रनेताओं के बीच किसी बात को लेकर कहासुनी शुरू हो गई। इसके बाइ दोनों गुट आपस में भिड़ गए। मौके पर हो रही मारपीट के दौरान कालेज में मौजूद लोग सुरक्षित स्थान की ओर भागने लगे। मारपीट की सूचना पाकर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई लेकिन छात्रों के बीच हो रहे संघर्ष पर पुलिस का कोई असर नहीं दिखा। इसी दौरान जब एक पक्ष द्वारा फायरिंग शुरू कर दी गई। यह देख हैरान पुलिस तत्काल सक्रियता दिखाते हुए हमलावर गुट के छात्रनेता को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से कंट्रीमेड पिस्टल बरामद कर लिया। असलहे के साथ पकड़े गए छात्रनेता प्रांशू राय को पुलिस थाने ले गई। देर शाम तक गिरफ्तार छात्रनेता के समर्थन में थाने पर गहमा-गहमी बनी रही। इस संबंध में बरदह एसओ प्रदीप चौधरी का कहना है कि गिरफ्तार आरोपी के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया गया है। साथ ही उन्होने यह भी कहा कि छात्रसंघ चुनाव के बाबत किसी को कानून से खिलवाड़ करने की इजाजत नहीं दी जाएगी।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???