Patrika Hindi News
UP Election 2017

इस जेल से आजाद होंगे 40 से अधिक बंदी, जिनकी बन रही है कुंडली 

Updated: IST jail
स्वास्थ्य रिपोर्ट मिलने के बाद होगी रिहाई।

बहराइच. जिला जेल में वर्षों से अपने गुनाहों की सजा काट रहे लगभग 40 से अधिक बंदियों को इस जेल की चहर दीवारी से आजाद करने का खाका शासन के निर्देश पर बड़ी तेजी के साथ बुना जा रहा है।

आप को बता दें कि 450 बंदियों की मानक क्षमता वाली इस जेल की सीखचों के अंदर मानवाधिकार की गाइड लाइनों को धता बताते हुए मानक क्षमता से कई गुना अधिक बंदी बंद हैं। इस जिला कारागार के अंदर सीमावर्ती कई जिलों के आलावा पड़ोसी मुल्क नेपाल के भी बन्दियों की अच्छी खासी तादात विभिन्न गुनाहों की सजा काट रही है।

इस बोझ को कम करने के लिए उत्तर प्रदेश शासन के निर्देश पर महानिदेशक कारागार प्रशासन एवं सुधार सेवाएं उ.प्र लखनऊ की तरफ से बहराइच के जिला कारागार अधीक्षक के पास ऐसे बंदियों को रिहा करने की प्रक्रिया के तहत मेडिकल बोर्ड द्वारा अवलोकित रिपोर्ट की मांग की गयी थी, जो लंबी अवधि से सजा काटते हुए बुढ़ापा, अशक्तता व बीमारी के आधार पर पूरी तरह अक्षम हो चुके हैं। ऐसे सिद्ध दोष बन्दियों के मेडिकल रिपोर्ट के लिए जिला कारागार की तरफ से पत्र संख्या-11/ए आर /2017 दिनांक 11 जनवरी को स्वास्थ विभाग के जिम्मेदार अफसर, सीएमओ के पास प्रेषित किया गया था, लेकिन इस मामले का प्रपत्र ठंडे बस्ते में धरा का धरा ही रह गया।

वहीं इस गम्भीर मसले की रिपोर्ट के लिए जिला कारागार अधीक्षक ललित मोहन पाण्डेय की तरफ से सीएमओ बहराइच डाक्टर अरुण लाल के पास रिमाइंडर लेटर की कापी भेजी गयी है जिस पत्र को पाते ही सीएमओ बहराइच ने कुशल चिकित्सकों की टीम के गठन की मंजूरी का अनुमोदन कर दिया है जो किसी नीयत तिथि को जेल में उपस्थित होकर कारागार में सजा काट रहे दण्डित सिद्धदोष बन्दियों के स्वास्थ का परीक्षण कर रिपोर्ट सौंपने का काम करेंगे, यानि वर्षों से जेल की हवा खा रहे 40 से अधिक चिह्नित किये गए बंदी चिकित्सकों के पैनल की जाँच रिपोर्ट के बाद खुली हवा में साँस ले सकेंगे, जिसकी कुंडली बड़ी तेजी के साथ तैयार की जा रही है।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???