Patrika Hindi News

> > > > Name trauma unit, operated maternity ward

नाम ट्रामा यूनिट, संचालित हो रहा प्रसूति वार्ड

Updated: IST balaghat
प्रसूताओं को नहीं मिल पा रही पर्याप्त सुविधाएं, जमीन पर लेट रही प्रसूताएं

बालाघाट. नाम तो ट्रामा यूनिट है, लेकिन यहां पर प्रसूति वार्ड संचालित हो रहा है। वो भी अव्यवस्थाओं के बीच। हालांकि, चार शिशुओं की मौत के बाद यहां की व्यवस्थाओं में सुधार करने का प्रयास अस्पताल प्रबंधन कर रहा है। लेकिन जो प्रयास किए जा रहे हैं, वो भी नाकाफी साबित हो रहे हैं।
जानकारी के बाद अस्पताल प्रबंधन ने अपनी सुविधा के लिहाज से जिला चिकित्सालय के प्रसव वार्ड को ट्रामा यूनिट में शिफ्ट कर दिया था लेकिन यहां प्रसव वार्ड के अनुसार सुविधाएं मुहैया नहीं कराई गई थी। प्रसव वार्ड के ट्रामा यूनिट में शिफ्ट होने के करीब एक वर्ष बीत जाने के बाद भी प्रसूताओं के लिए सुविधाएं नहीं रखी गई है। बावजूद इसके अस्पताल प्रबंधन लापरवाह बना रहा।
इधर, 18 सितम्बर को चार शिशुओं की मौत का मामला गर्माने के बाद से प्रबंधन ने इन समस्याओं को गंभीरता से लिया। अब यहां सुविधाएं मुहैया कराई जा रही है। फिलहाल यहां पर बिजली बेकअप के लिए एक जनरेटर की व्यवस्था की गई है। वहीं स्टोर में पड़ी बेबी रेडियन हीट वार्मर मशीन को भी अधिकारियों के जांच पर पहुंचने के बाद लगाने का कार्य किया गया।

कम पड़ रहे बिस्तर
ट्रामा यूनिट में प्रसव के लिए भर्ती हुई महिलाओं को जमीन पर लेटना पड़ रहा है। दरअसल, यहां बेड फुल हो जाने की वजह से प्रसूताओं को जमीन पर लेटाना पड़ रहा है। जिसकी वजह से उन्हें काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

बच्चों पर संक्रमण का खतरा
ट्रामा यूनिट में प्रसव वार्ड के संचालित होने के बाद भी यहां गंदगी बनी रहती है। जिसके कारण नवजातों पर संक्रमण होने का खतरा बना रहता है। इसका खुलासा भी उस समय हुआ, जब जांच के लिए स्वास्थ्य संचालक राजश्री बजाज ट्रामा यूनिट पहुंच रही थी। अधिकारी के आने की सूचना मिलते ही ट्रामा यूनिट में पदस्थ नर्सों में सफाई को लेकर हडकंप मच गया।

इनका कहना है
अस्पताल प्रबंधन की जिम्मेदारी सीएस की होती है। उन्हें ही पूरी तरह से प्रबंधन करना होता है।
डॉ. केके खोसला, सीएमएचओ, बालाघाट

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे