Patrika Hindi News

Photo Icon एनएसयूआई ने कराया कॉलेज बंद, कॉलेज के गेट पर लटके रहे ताले

Updated: IST balaghat
रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय द्वारा गलत मूल्यांकन कर 80 प्रतिशत विद्यार्थियों को फेल करने के विरोध में गुरूवार को नगर के महाविद्यालय बंद रहे। भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन द्वारा नगर में घूम-घूमकर कॉलेज बंद कराया गया।

बालाघाट. रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय द्वारा गलत मूल्यांकन कर 80 प्रतिशत विद्यार्थियों को फेल करने के विरोध में गुरूवार को नगर के महाविद्यालय बंद रहे। भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन द्वारा नगर में घूम-घूमकर कॉलेज बंद कराया गया। इससे जेएसटी कॉलेज, कन्या महाविद्यालय सहित कुछ निजी कॉलेज भी बंद रहे। इस दौरान महाविद्यालय के सामने पुलिस भी तैनात रही।

इस दौरान दयाल वासनिक ने कहा कि बीएससी तृतीय सेमेस्टर का परीक्षा परिणाम घोषित किया गया इसमें अधिकांश विद्यार्थियों को एटीकेटी एक समान अंक देकर फेल कर दिया गया है। परिणाम निरस्त कर पुन: मूल्यांकन कराए जाने की मांग को लेकर ज्ञापन दिया गया। लेकिन मांगों का शीघ्र निराकरण नहीं होने से महाविद्यालय बंद कर विरोध किया गया है। उन्होंने विश्व विद्यालय के कुलपति से मांग की है कि छात्रों के भविष्य को ध्यान में रखकर पुन: मूल्यांकन कराया जाए।

ये है मांगें

कमला नेहरू महाविद्यालय व जेएसटी महाविद्यालय के एससी/एसटी छात्राओं को आवासीय योजना के अंतर्गत पीडि़त छात्राओं को उचित मुआवजा दिया जाए। कमला नेहरू महाविद्यालय में साप्ताहिक जन सुनवाई की व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा कि मांगें पूरी नहीं हुई तो आंदोलन किया जाएगा।

इस दौरान एनएसयूआई के वरिष्ठ पदाधिकारी जीतू बर्वे, नीटू कौशल, शलभ बनवाले, जिला उपाध्यक्ष नरेन्द्र लिल्हारे, महासचिव गौरव नगपुरे, दिलीप जाधव, जिला प्रवक्ता तौसीब जुबीन, ब्लॉक उपाध्यक्ष, राजेश ठाकरे, अंशुल वासनिक, सलीम अंसारी, पंकज राऊत, अतुल शिवाले, भारत चौरागढ़े, पवन पन्द्रे, अंशुल वासनिक सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित रहे।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???