Patrika Hindi News

ग्रामीण क्षेत्र के बैंको में खत्म हुआ कैश, कैश के लिए बैंको में लग रही लम्बी लाइन

Updated: IST Notebandi
कई जगहों पर गुस्साये ग्राहको ने जम कर काटा हंगामा।

बलरामपुर। नोटबन्दी के बीस दिन बाद भी स्थिति सामान्य होने का नाम नहीं ले रही है। सबसे दु:खद स्थिति ग्रामीण क्षेत्रों की है जहां बैंक की शाखओं में पैसा ही नहीं है। रोज बैंक खुलने के पहले लम्बी कतारें लग जा रही हैं। बैंक खुल जाने के बाद यही पता चलता है कि पैसा नहीं है। ज्यादातर एटीएम में भी कैश नहीं है। जिन एटीएम में कैश है वहां लम्बी लाइन अब भी लगी रहती है।

सहालत का समय होने के कारण नोटबंदी से लोग ज्यादा प्रभावित हो रहे हैं। नगर क्षेत्रों में तो स्थिती काफी हद तक सुधरी है। लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों मेें अब भी स्थिति सामान्य नहीं है। सर्व यूपी ग्रामीण बैंक की अधिकतर शाखाओं में पैसा नहीं है। कई बड़े बैंको की शाखायें जो ग्रामीण क्षेत्रों में संचालित हैं वो भी कैशलेस हो चुकी हैं। गैसड़ी, पचपेड़वा, उतरौला, सादुल्लानगर, हर्रैैया, शिवपुरा, ललिया, मथुरा व हरिहरगंज क्षेत्र में अधिकतर बैंको में मंगलवार को भी ग्राहकों को पैसा नहीं मिला। कई जगहों पर गुस्साये ग्राहको ने हंगामा भी काटा। बैंको पर सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस तैनात कि गयी। जिन्हें ग्राहकों को नियंत्रित करने में काफी मशक्कत करनी पड़ी। हालांकि की अग्रणी बैंक इलाहाबाद के एलडीएम का कहना है कि स्थिती जल्द ही सामान्य हो जायेगी।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ?भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???