Patrika Hindi News

> > > > Balod : For the control of evil and crimes gathered women from thirteen villages

बुराई और अपराधों के नियंत्रण के लिए 13 गांवों से जुटीं महिलाएं

Updated: IST Balod : For the control of evil and crimes gathere
गांव में अलग-अलग अपराधों को कैसे नियंत्रित किया जा सकता है इसके उपाय जानने तेरह गांव की महिलाएं जुटी। इसमें महिला कमांडो व नवयुवक संगठन शामिल हुए।

बालोद/गुरुर.ग्राम सोंहपुर में बुधवार को जन जागरूकता कार्यक्रम रखा गया। महिला कमांडो समिति व नवयुवक संगठन सहित आसपास के तेरह ग्रामों की महिलाएं इसमें सम्मिलित हुईं। जहां गांव में अलग-अलग अपराधों को कैसे नियंत्रित किया जा सकता है इसके उपाय बताए गए। कार्यक्रम में विधायक भैयाराम सिन्हा मुख्य अतिथि थे।

रहे सावधान नहीं होगा नुकसान
वहीं नायब तहसीलदार हनुमंत श्याम, उप निरीक्षक मनीष कुमार नेताम ने क्षेत्र में होने वाले अपराधों के संबंध में जानकारी देते हुए सावधान रहने की बात कही। बताया कि कैसे थोड़ी सी सावधानी से इन अपराधों व आर्थिक नुकसान से बचा जा सकता है। वहीं गांव को नशामुक्ति व अपराध मुक्त बनाने गांवों में हो रही नशाखोरी, व्यसन, जुआ सट्टा, अवैध शराब की जानकारी पुलिस को देने के लिए महिला कमांडो का गांव-गांव गठन किया जा रहा है।

महिला जागरुकता से अपराधों में आई कमी
शिविर में बताया गया कि कैसे महिलाओं द्वारा ग्राम को समाजिक बुराइयों से लडऩे जागरूक किया जा रहा है। उन्हें शाम गश्त के लिए लाठी, सिटी, टार्च कैप प्रदान किया जा रहा है। शिविर में बताया गया कि महिलाओं की जागरूकता के कारण अपराधों में कमी आई है। कार्यक्रम में 13 ग्रामों के पांच सौ से अधिक महिलाएं, पुरुष सम्मिलित हुए।

मिशन जीवदया का बताया दायित्व
पुलिस विभाग की ओर से चलाए जा रहे मिशन ई-रक्षा के संबंध में मनीष कुमार नेताम ने बताया कि साइबर अपराधों के तहत फेसबुक, वाई-फाई, ई-मेल से कैसे फर्जी कॉल व जानकारी देकर धोखाधड़ी व ठगी से बचा जा सकता है। इस दौरान मिशन जीवदया के तहत सड़क दुर्घटना होने पर कैसे पीडि़त को प्राथमिक उपचार उपलब्ध कराना है। पुलिस को सूचना देते हुए पीडि़त व्यक्ति को जीवन रक्षक सुविधा उपलब्ध कराने की ट्रेनिंग दी गई।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???