Patrika Hindi News

Video Icon नोटबंदी से आक्रोशित लोगों ने रास्ता जाम कर किया प्रदर्शन

Updated: IST Bahraich
नोटबंदी के बाद आम देशवासियों को हो रही समस्या कम होने का नाम नहीं ले रही है

बांदा.नोटबंदी के बाद आम देशवासियों को हो रही समस्या कम होने का नाम नहीं ले रही है। ग्रामीण क्षेत्र के बैंकों में कैश की किल्लत ने ग्रामीणों के दैनिक कामों में भी ब्रेक लगा दिया है। अब लोगों का सब्र भी जवाब देने लगा है और उस पर पैसे की किल्लत से जूझ रहे बैंककर्मियों की ग्राहकों से बदतमीजी भी आग में घी डालने का काम कर रही है। इसकी बानगी एक बार फिर देखने को मिली है। बांदा में जहां कैश की किल्लत से झुंझलाये बैंककर्मी के गेट बन्द करने के दौरान एक वृद्ध का हाथ ही घायल हो गया, तो वहीं दूसरे स्थान पर भी लोगों ने बैंक की कार्यशैली से खफा ग्रामीणों ने रोड जाम कर दिया और कई घण्टे तक आवागमन को बाधित कर दिया।

देखें वीडियो-

मामला बांदा देहात कोतवाली के पपरेंदा का है। जहां स्थित इलाहाबाद यूपी ग्रामीण बैंक में पिछले दो दिन से कैश नहीं है और इस बैंक पर आश्रित सात गांवों के बाशिंदे रोज खाली हाथ लौट रहे थे। गुरुवार को फिर ग्रामीणों की भीड़ बैंक में सुबह से ही लाइन में लग गयी। लेकिन बैंक खुलते ही लोगों को कैश न होने की बात बतायी गयी। जिससे लोग आक्रोशित हो गये और इसी बीच भीड़ को हटाने के लिए बैंककर्मियों ने अचानक बैंक का चैनल गेट बंद कर दिया।

जिससे टोकन लेकर आये बुज़ुर्ग रामसिंह का हाथ घायल हो गया। इससे लोगों में आक्रोश और बढ़ गया और ग्रामीणों की भीड़ ने बांदा कानपूर स्टेट-वे जाम कर दिया और जमकर हंगामा किया। दो घंटे तक रोड जाम होने के बाद पुलिस के समझाने पर ग्रामीणों ने जाम खत्म किया।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ?भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???