Patrika Hindi News

पूर्व डीजीपी ने दी सलाह : जनता की अपेक्षा के अनुसार काम करे पुलिस

Updated: IST bangalore
पूर्व पुलिस महा निदेशक (ड़ीजीपी) बी.एन.गरुड़ाचार ने कहा कि पुलिस को जनता की अपेक्षा के आधार पर काम करने की

बेंगलूरु।पूर्व पुलिस महा निदेशक (ड़ीजीपी) बी.एन.गरुड़ाचार ने कहा कि पुलिस को जनता की अपेक्षा के आधार पर काम करने की जरूरत है। पुलिस मुख्यालय में गरुडाचार अभिमानी बळगा के जरिए आयोजित पुस्तक गरुड़ाध्वज विमोचन कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि कांस्टेबल से लेकर डीडीपी स्तरके वरिष्ठ पुलिस अधिकारी को भी अपनी आदतों पर कड़ी नजर रखने की जरूरत है। पुलिस विभाग में पहली की तरह पेशेवर कार्य दिखाई नहीं दे रहा और सेवा की भावना कम होती जा रही है। पुलिस व्यवस्था में सुधार की जरूरत है। उन्होंने कहा कि पुलिस कर्मचारियों की दोस्ती अपराधियों और नेताओं से नही होनी चाहिए।

उनसे जितनी दोस्ती होगी, उतनी ही परेशानी का सामना करना पड़ेगा। आज पुलिस के संबंध समाजकंटकों, नेताओं और अन्य पेशेवर मुजरिमों से बढ़ गए हैं। पूर्व डीजीपी डॉ. डी.वी. गुरुप्रसाद ने कहा कि गरुड़ाचार ने कई भाषाएं सीखीं और इसी शौक के कारण वे लेखक बने हैं। सेवानिवृत्त होने के बाद हर व्यक्ति को किसी ना किसी काम में व्यस्त रहने की जरूरत है। गरुडाचार ने डीजीपी रहते समाजकंटकों में पुलिस का खौफ पैदा किया और जनता को पुलिस के करीब आने का अवसर दिया।

डीजीपी आरके दत्ता ने कहा कि पुलिस व्यवस्था में सुधार लाने के लिए गरुड़ाचार, गुरुप्रसाद, और अन्य सेेवा निवृत्त वरिष्ठ अधिकारियों के सुझावों की जरूरत है। वे विभाग में सुधार के लिए इन अधिकारियों से सुझाव लेकर कार्य करेंगे। इस अवसर पर पूर्व डीजीपी एफ. टी. आर. कोलासो, अभिमानिगळा समूह के प्रमुख टी.वेंकटेश, गरुडागिरी नागराज, डॉ.कोमला मंजुनाथ, पूर्व वरिष्ठ अधिकारी के.वी.आर.टैगोर, जीवन गांवकर और अन्य सेवा निवत्त पुलिस अधिकारी उपस्थित थे।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???