Patrika Hindi News

> > > > Three arrested for bribery Employee

तीन कर्मचारी घूस लेते हुए गिरफ्तार

Updated: IST bangalore news
भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) की टीम ने गुरुवार को तीन अलग-अलग जगह छापेमारी कर तीन लोगों को रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार किया है

बेंगलूरु. भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) की टीम ने गुरुवार को तीन अलग-अलग जगह छापेमारी कर तीन लोगों को रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार किया है। इनमें एक अधिकारी भी शामिल है, जिसके कब्जे से करीब 3.50 लाख रुपए जब्त किए गए हैं। एसीबी के अधिकाारियों के मुताबिक बेंगलूरु के एक ठेकेदार ने ओल्ड एचएएल एयरपोर्ट रोड स्थित कोणेना अग्राहर में निर्माणाधीन अपार्टमेन्ट के लिए बिजली कनेक्शन के लिए ठेका लिया था।

इसलिए उसने अनापत्ति प्रमाण-पत्र पाने के लिए बेंगलूरु बिजली आपूर्ति (बेसकॉम) के दक्षिण क्षेत्र के कार्यालय में याचिका दाखिल की थी। कई दिन तक जबाव नहीं मिलने पर वह बेसकॉम कार्यालय पहुंचा और अतिरिक्त मुख्य इलेक्ट्रिकल निरीक्षक के.वी. सदानंद से मुलाकात की, लेकिन सदानंद ने अनापत्ति प्रमाण-पत्र देने के बदले 24,000 रुपए की घूस मांगी।

ठेकेदार सदानंद से 24 हजार रुपए लाने का वादा कर सीधा एसीबी कार्यालय पहुंचा और सदानंद के खिलाफ घूस मांगने की शिकायत दर्ज कराई।

एसीबी ने ठेकेदार को बताया कि वह गुरुवार को सदानंद को कार्यालय में घूस की राशि दे। ठेकेदार ने ऐसा ही किया। जैसे ही ठेकेदार ने सदानंद के हाथ में घूस की रकम दी वैसे ही एसीबी ने उसे धर दबोचा। उसके खिलाफ बसवनगुड़ी थाने में मामला दर्ज किया गया है।

इसी तरह मेंगलूरु में एसीबी की टीम ने गुरुवार को श्रम विभाग के सहायक निदेशक सुरेश को गिरफ्तार कर 3 लाख, 48 हजार, 515 रुपए जब्त किए हैं। एसीबी के अधिकारियों ने बताया कि सुरेश श्रम विभाग के फैक्ट्री और बॉयलर विभाग में सहायक निदेशक था। हाल में उसका तबादला बेंगलूरु कर दिया गया था। पिछले कुछ में शिकायतें मिली थीं कि उसने मेंगलूरु में लघु उद्योगों और फैक्ट्रियों के लिए लाइसेंस, अनापत्ति प्रमाण-पत्र और लाइसेंस के नवीकरण के लिए लाखों रुपए की घूस ली है।

शिकायतों के आधार पर सुरेश के निवास और कार्यालय पर छापे मारे गए। उसके कार्यालय से 1 लाख, 12 हजार, 865 रुपए और घर से 2 लाख, 36 हजार, 650 रुपए जब्त किए गए। सुरेश को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ पणंबूर थाने में मामला दर्ज किया गया है।

वहीं, चिकबल्लापुर जिले की एसीबी टीम ने एक किसान से भूमि के दस्तावेज तैयार करने के लिए 8 हजार रुपए की घूस लेते हुए गौरिबदिनूर तहसील के हंपासन्द्र गांव के ग्राम लेखापाल संजय को गिरफ्तार किया है।

एसीबी के अनुसार हंपासंद्र गांव निवासी एक किसान अपनी भूमि को तीन पुत्रों के नाम कराने के लिए हंपासंद्र के राहत केन्द्र में याचिका दाखिल की थी। संजय ने दस्तावेज तैयार करने के लिए किसान से 8,000 हजार रुपए की घूस मांगी। किसान पैसे लाने की बात कहकर चिकबल्लापुर एसीबी थाने पहुंचे और संजय के खिलाफ रिश्वत मांगने की शिकायत दर्ज कराई। गुरुवार शाम जब संजय दफ्तर में घूस की राशि ले रहा था तभी एसीबी की टीम ने उसे गिरफ्तार कर लिया। आरोपी के खिलाफ गौरिबिदनूर ग्रामीण थाने में मामला दर्ज किया गया है।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???