Patrika Hindi News

> > > > Divorced women react on Triple Talaq issue

UP Election 2017

Video Icon तीन तलाक पर बहस के बीच तलाकशुदा महिलाओं का दर्द भी सुनिए

Updated: IST victim women
पति को तलाक बोलने में पलभर भी नहीं लगता, लेकिन इसके बाद उस महिला पर क्या गुजरती है, वो दर्द वही जानती है।

बरेली। देशभर में तीन तलाक के मुद्दे पर बहस छिड़ी हुई है। हर कोई इस मुद्दे पर अपनी अपनी राय रख रहा है। बरेली में भी अभी हाल में ही तलाक के दो मामले सामने आए। जिसमें एक मामले में दहेज की मांग पूरी ना होने पर पति ने फोन पर ही अपनी पत्नी को तलाक दे दिया, जबकि दूसरे मामले में जब पत्नी ने पति को चोरी करने से मना किया तो उसने तलाक बोल दिया। अब ये दोनों ही महिलाएं अपने-अपने मायके में रह रही हैं।

केस- 1
आजमनगर की फैजीन का निकाह किला के खालिद मिर्जा से अप्रैल 2015 को हुआ था। आरोप है कि शादी के बाद से ही फैजीन के ससुराल वाले उसे दहेज के लिए प्रताड़ित करने लगे। ससुराल में उसके साथ मारपीट भी होती रही। फ़ैजीन ने दो माह पहले बच्चे को भी जन्म दिया लेकिन बेटे के जन्म के बाद भी उसके पति और ससुराल वालों के व्यवहार में कोई फर्क नहीं आया। जिसके बाद 17 अगस्त 2016 को फ़ैजीन का पति उसे मायके छोड़ गया और 21 अगस्त को फोन पर उसने फैजीन को तीन बार तलाक, तलाक, तलाक बोल कर तलाक दे दिया। पति के तलाक देने से परेशान फैजीन ने ससुराल वालों से बहुत मिन्नतें की लेकिन उसके ससुराल वाले नहीं माने जिसके बाद फैजीन ने ससुराल में हुए अत्याचार की शिकायत 1090 से की लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। जिसके बाद फैजीन ने पुलिस से भी शिकायत की। पुलिस ने दहेज उत्पीड़न और मारपीट का मामला दर्ज किया है।

तलाक के बाद फैजीन अपने पिता के घर पर रह रही है। उसका कहना है कि तलाक को मजाक बना कर रख दिया है। इसके साथ ही फ़ैजीन ने कहा कि जो लोग तलाक देते हैं उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाए। इस प्रथा का लोग गलत फायदा उठाते है। दहेज के लिए या दूसरी शादी के लिए लोग तलाक देते हैं। फैजीन ने कहा कि उसके पति ने तो तीन बार तलाक बोल दिया, जिससे उसकी जिंदगी बर्बाद हो गयी। ऐसा करने वालों पर सख्त कार्रवाई हो जिससे किसी और लड़की की जिंदगी ना बर्बाद हो।

केस- 2
तलाक का दूसरा मामला हाफिजगंज इलाके का है। जहां पर चोरी करने से मना करने पर पति ने पत्नी को तलाक दे दिया। यहां रहने वाले जमील अहमद की मोबाइल की दुकान है। जमील की दुकान से हाफिजगंज के ही रहने वाले आजाद ने मोबाइल फोन चुरा लिया तो उसने दबाव बनाने के लिए आजाद के साथ ही उसके बेटे मुस्ताक को भी नामजद करते हुए हाफिजगंज थाने में तहरीर दे दी। पुलिस जब आजाद के पूछताछ करने पहुची तो उसकी पत्नी शबनम को इसका पता चला। पुलिस को दी शिकायत में शबनम ने बताया कि अपने पति की करतूत से परेशान होकर उसने पति पर नाराजगी जताई और पति को समझाया कि ये काम गलत है। चोरी करना ठीक बात नहीं है। उसके बेटे मुस्ताक ने भी नाराजगी जताई। जिससे आजाद नाराज हो गया और उसने पत्नी के साथ ही बेटे की भी पिटाई कर दी और पत्नी को तलाक देकर घर से निकाल दिया।

जिसके बाद शबनम ने फोन कर अपने भाइयों को बुलाया और सारी घटना बताने के बाद पुलिस में शिकायत की। शबनम की शादी को 20 साल से ज्यादा का समय हो गया है। उसके चार बच्चे भी है। पुलिस ने इस मामले में पति का शांति भंग में चालान कर दिया। शबनम अब अपने भाइयों के साथ रह रही है। उसकी मांग है कि उसे पति से गुजारा भत्ता मिले क्योंकि उसके चार बच्चे हैं।

वीडियो-

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???