Patrika Hindi News
UP Election 2017

मौलाना तौकीर बोले- मुलायम मजलूम हैं, अखिलेश यादव जालिम

Updated: IST Maulana Tauqeer Raza
मौलाना तौकीर रजा ने मुलायम सिंह यादव का खुला समर्थन किया है।

बरेली। समाजवादी पार्टी में साइकिल सिम्बल को लेकर छिड़ी जंग के बीच बरेली मसलक से जुड़े इत्तेहाद-ए-मिल्लत काउंसिल (आईएमसी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना तौकीर रज़ा खां सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव के समर्थन में आ गए हैं। मौलाना तौकीर रज़ा ने कहा कि अखिलेश यादव ने बेटे होने का फर्ज अदा नहीं किया, जबकि मुलायम सिंह ने बाप का फर्ज अदा किया है।

मुलायम ने निभाया पिता का फर्ज

आला हजरत खानदान के मौलाना तौकीर ने अखिलेश यादव की तुलना जालिम से करते हुए कहा कि अखिलेश जालिम हैं, जबकि मुलायम सिंह यादव इस समय मजलूम हैं। मुसलमान हमेशा मजलूमों के साथ रहता है। मुलायम सिंह ने पिता होने का फर्ज पूरा किया, जबकि अखिलेश यादव ने बेटे होने का फर्ज नहीं निभाया और अपने पिता को तन्हा कर दिया।

मुलायम से मुलाकात कर सकते हैं तौकीर

मुलायम के समर्थन में खुल कर बयान देने वाले मौलाना तौकीर रज़ा खान जल्द ही मुलायम सिंह यादव से मुलाकात भी कर सकते हैं। क्योंकि वो पहले भी कहते रहे हैं कि चुनाव में फिरकापरस्त ताकतों को रोकना होगा। इसके लिए आईएमसी कांग्रेस और लोकदल से भी गठबंधन की बात की थी।

2012 में एक सीट जीती थी आईएमसी

2012 के चुनाव में आईएमसी को खासी सफलता मिली थी। इस चुनाव में कुल दस सीटों पर आइएमसी ने उम्मीदवार उतारे थे। बरेली की छह शाहजहांपुर की एक तथा मुरादाबाद की तीन सीटों पर चुनाव लड़ी। इसमें बरेली की भोजीपुरा सीट से उम्मीदवार शहजिल इस्लाम ने 67 हजार वोट हासिल कर जीते। लेकिन बाद में सपा में शामिल हो गए। जबकि बिथरी चैनपुर सीट पर 31800 वोट पाकर तीसरे तथा कैंट सीट पर 32 हजार वोट पाकर दूसरे नंबर पर रही। मुरादबाद की तीन सीटों पर 16 हजार, 24 हजार तथा 18 हजार वोट मिले थे।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???