Patrika Hindi News

शरारती तत्वों ने किया ऐसा कि किसानों की मेहनत हो गई बर्बाद

Updated: IST harasona
जंगल के सीमा पर कुछ किसानो द्वारा मक्का की फसल लगाई गई थी, जो कि अब पूरी तरह पक कर तैयार हो चुकी थी

बडग़ांव. क्षेत्र के मंगहूर और पालवी गांव के सरहद सीमा पर किसी आज्ञात शरारती तत्वों द्वारा जंगल में आग लगा देने से जंगल से लगे कुछ किसानो की फसल भी आग के चपेट में आ गई। जिससे किसानो को काफी नुक्सान उठाना पड़ा है।

बता दें कि मंगहुर और पालवी के जंगल के सीमा पर कुछ किसानो द्वारा मक्का की फसल लगाई गई थी, जो कि अब पूरी तरह पक कर तैयार हो चुकी थी,

पूरी फसल जल कर खाक हो गई

कुछ ही दिनो में उसकी तोड़ाई होनी थी, लेकिन जंगल में कुछ अज्ञात शरारती तत्वों द्वारा आग लगा दिए जाने के कारण आग के लपटे बढ़ती चली गई और जंगल से लगे खेतो तक पहुंची और किसानो की फसल को भी अपने चपेट में ले लिया। आग की लपटे इतनी अधिक थी, कि कुछ ही समय में पूरी फसल जल कर खाक हो गई। इस घटना की सूचना मिलते ही किसान यहां आग बुझाने तो पहुंचे, लेकिन उस समय तक पूरी फसल जल कर खाक हो चुकी थी।

हरा सोना कहलाने वाला तेंदू पत्ता

इतना ही नहीं इस आगजनी की घटना से हरा सोना कहलाने वाला तेंदू पत्ता भी जल कर खाक हो गया। इसके साथ ही बांस, पैरा, सहित अन्य पौधे भी जल कर पूरी तरह नष्ट हो गए। इस घटना की सूचना क्षेत्र के किसानो ने बडग़ांव पुलिस थाना में जाकर दी और मामले की जांच करने हेतु किसानो द्वारा मांग की गई है। पीडि़त मंगहुर निवासी किसान समदेर पुड़ो, राम तुलावी के मक्का और तेंदूपता ग्राम पालवी निवासी किसान मानसाय कडिय़ाम, मैनु मंडावी, नरेद्र नरेटी, सुकलाल तुलावी ने बताया की उनके खेत में आग लगने से उनको भारी क्षति हुई है। जिस पर उन्होंने प्रशासन से मुआवजे की मांग की है ।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???