Patrika Hindi News

> > > > Jagdalpur : Jora sewer not reached yet people spend billions on water

जोरा नाला पर करोड़ों खर्च फिर भी लोगों तक नहीं पहुंचा पानी

Updated: IST Joranala
मरवाही विधायक अमित जोगी ने इंद्रावती नदी और जोरा नाला स्ट्रक्चर का निरीक्षण कर काम बंद को लेकर प्रदेश सरकार की नीति पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि स्ट्रक्चर निर्माण में 52 करोड़ रुपए पानी में डूब गए।

जगदलपुर. मरवाही विधायक अमित जोगी ने शुक्रवार को इंद्रावती नदी और जोरा नाला स्ट्रक्चर का निरीक्षण कर काम बंद को लेकर प्रदेश सरकार की नीति पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि स्ट्रक्चर निर्माण में 52 करोड़ रुपए पानी में डूब गए।

2014 में पूरा होने वाला काम 2016 तक भी पूरा नहीं हो सका है। जिस तरह से काम चल रहा है उससे लगता है कि सरकार नहीं चाहती काम पूरा हो।

इस दौरान अमित जोगी ने नदी का प्रवाह देखने के लिए कागज की नाव रखी, जिससे पता चला कि प्रवाह ओडिशा की ओर है। उन्होंने कहा कि इसका मतलब है कि जोरा नाले का सारा पानी ओडिशा की ओर जा रहा है।

समझौते के मुताबिक यहां दो स्ट्रक्चर बनने थे, जिससे एक से छत्तीसगढ़ से ओडिशा की ओर पानी जाने के लिए और दूसरा ओडिशा से छत्तीसगढ़ की ओर पानी आने के लिए था। पहला स्ट्रक्चर तो ओडिशा सरकार ने पहले ही बनवा दिया है जिससे उन्हें आधा पानी मिल रहा है लेकिन दूसरा स्ट्रक्चर अभी तक मूलभूत ढांचे तक भी नहीं पहुंचा है।

सीएम व मंत्री चित्रकोट व तीरथगढ़ तक सीमित

छोटे जोगी ने कहा कि मुख्यमंत्री और जल संसाधन मंत्री बस्तर आते है। फिर भी आज तक उन्होंने इंद्रावती और जोरा नाला का निरीक्षण नहीं किया। प्रदेश सरकार सीएम व मंत्री केवल वहीं का दौरा करते हैं जहां बेहतर सुविधा है। वे चित्रकोट और तीरथगढ़ जलप्रपात तक ही सीमित है।

बकावंड में ली सभा

बस्तर विधानसभा के बकावंड में अमित जोगी ने शुक्रवार को सभा की। इस दौरान कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों की बैठक ने संगठन को मजबूत करने पर चर्चा की। इसमें अंतुराम कश्यप, प्रभात झा, प्रदेश महासचिव नवनीत चांद, बस्तर प्रभारी हरीश कवासी, बलराम अल्ताफ खान, राजेश, प्रतिभा मांझी, बाबा संतोष यादव अरविंद लाल सहित अन्य लोग मौजूद थे।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे