Patrika Hindi News

Audio Icon राज्य स्तरीय शालेय प्रतियोगिता का समापन, दुर्ग बना ओवरऑल चैंपियन

Updated: IST cultural Programme
16 वीं राज्य स्तरीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता का समापन, इसमें में 7 संभाग के 1300 खिलाडि़यों व ओफिशियल ने हिस्सा लिया। ओवर ऑल चैंपियन दुर्ग बना।

जगदलपुर. 16 वीं राज्य स्तरीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता का समापन समारोह बुधवार को इंदिरा प्रियदर्शनी स्टेडियम में आयोजन किया गया। इसमें ओवर ऑल चैंपियन दुर्ग रही।

दुर्ग की टीम फुटबॉल के दोनों वर्ग में विजेता रही और रग्बी बालक वर्ग में प्रथम स्थान हासिल किया और कबड्डी बालक में द्वितीय स्थान हासिल किया। दुर्ग को ट्रॉफी प्रदान किया गया। सबसे अनुशासित टीम सरगुजा और बेस्ट मार्च पास्ट का पुरस्कार जशपुर को मिला।

राज्य स्तरीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता में 7 संभाग के 1300 खिलाडि़यों व ओफिशियल ने हिस्सा लिया। यह प्रतियोगिता 16 अक्टूबर को शुरू हुई थी। खिलाडि़यों ने पांच खेलों में जौहर दिखाए।

मेजबान बस्तर ने वाटर पोलो में प्रथम स्थान, रग्बी के अंडर 17 बालक वर्ग में विजेता और फुटबॉल के बालक, बालिका वर्ग में उपविजेता रही। राज्य स्तरीय प्रतियोगिता के विजेता और चयनित खिलाड़ी राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता खेलने के लिए जाएंगे। बस्तर के लिए यह प्रतियोगिता संतोषजनक रहा। विधायक संतोष बाफना ने खेल के समापन की घोषणा की और ध्वज को उतारा गया।

राज्य ही नहीं भारत का भी नाम रोशन करें

समापन अवसर पर विधायक संतोष बाफना ने कहा कि खिलाड़ी राज्य स्तर पर ही नहीं भारत में भी अपना नाम रोशन करें। खिलाडि़यों के प्रोत्साहन के लिए शासन कई योजनाएं चला रही है।

जिसका खिलाडि़यों को लाभ लेना चाहिए। इस बार हम पर्यटन को बढ़ावा देने खिलाडि़यों को पर्यटन स्थल नहीं दिखा पाए, लेकिन आने वाले वर्षों में यह प्रयास करेंगे। विधायक दीपक बैज ने कहा कि खिलाडि़यों को बस्तर को भी घूम कर जाना चाहिए, यहां के प्राकृतिक स्थल लुभावने हैं तभी आपको यह खेल प्रतियोगिता याद रहेगी।

जिला पंचायत अध्यक्ष जबिता मंडावी ने कहा कि खिलाडि़यों को सचिन, सानिया, सिंधू की तरह बनना चाहिए और खेल में भी करियर बनाना चाहिए। खेल में भी बहुत संभावनाएं हैं। इस अवसर पर एडीशनल कलेक्टर हीरा लाल नायक, जिला पंचायत सीईओ केएल चौहान, जिला शिक्षा अधिकारी राजेंद्र झा, आरएमएसए भारती प्रधान, बस्तर हाई स्कूल प्रचार्य सुषमा झा, युवा आयोग के सदस्य संग्राम सिंह राणा, बीईओ अरूण देवांगन आदि उपस्थित थे।

सांस्कृतिक कार्यक्रम की रही धूम

state level compititionमहारानी कन्या लक्ष्मी बाई स्कूल की बालिकाओं ने मोंगर धरा गीत पर नृत्य किया। माता रूकमणि कन्या आश्रम के बालिकाओं ने आदिवासी नृत्य कर सभी का मन मोहा। खिलाड़ी भी नृत्य देखने के लिए उत्साहित रहे।

अंजलि का किया सम्मान

बिलासपुर की खिलाड़ी अंजलि खलको का सम्मान बुधवार को किया गया। बेसबॉल की खिलाड़ी ने अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के लिए दक्षिण कोरिया गई थी। अंजलि ने अपनी सफलता का श्रेय कोच अख्तर खान को दिया।

मैदान में नाचे खिलाड़ी

प्रतियोगिता के समापन के बाद खिलाड़ी मैदान में नाचे और जीत का जश्न मनाया। वाटर पोलो के खिलाडि़यों ने मैदान में आदिवासी नृत्य किया, इसकी देखादेखी रायपुर, दुर्ग के खिलाडि़यों ने भी जश्न मनाया।

कदम से कदम मिलाए

Durg trophyसमापन अवसर पर सातों जोन के खिलाडि़यों ने एक साथ कदम से कदम मिलाते हुए सलामी दी। बेस्ट मार्च पास्ट का पुरस्कार जशपुर की टीम को मिला।

ये रहे विजेता

कबड्डी बालक: प्रथम बिलासपुर, द्वितीय दुर्ग, तृतीय राजनांदगांव

कबड्डी बालिका : प्रथम बिलासपुर , द्वितीय राजनांद गांव, तृतीय बस्तर

वाटर पोलो: प्रथम बस्तर, द्वितीय बिलासपुर, तृतीय सरगुजा

फुटबाल बालक: प्रथम दुर्ग, द्वितीय बस्तर, तृतीय रायपुर

फुटबाल बालिका: प्रथम दुर्ग, द्वितीय बस्तर, तृतीय रायपुर

रग्बी बालक अंडर 17: प्रथम बस्तर, द्वितीय बिलासपुर, तृतीय रायपुर

रग्बी बालिका वर्ष 17: प्रथम रायपुर, द्वितीय बस्तर, तृतीय बिलासपुर

रग्बी बालक अंडर 19: प्रथम दुर्ग, द्वितीय बस्तर, तृतीय जशपुर

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ?भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???