Patrika Hindi News

> > > > Jagdalpur : Skill training in forestry and agriculture in the Bastar region of tremendous potential

बस्तर में वानिकी व कृषि क्षेत्र में कौशल उन्नयन प्रशिक्षण की असीम संभावना

Updated: IST region of tremer
कौशल विकास प्राधिकरण की संभागीय कार्यशाला में पीएस पिल्ले ने कहा, यहां वन और कृषि क्षेत्र के संसाधन पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं

जगदलपुर. बस्तर संभाग में वानिकी और कृषि क्षेत्र में कौशल उन्नयन प्रशिक्षण की प्रचुर संभावनाएं उपलब्ध है। यहां वन और कृषि क्षेत्र के संसाधन पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं, जिसका सद्पयोग करते हुए विभिन्न विधाओं का प्रशिक्षण प्रदान कर प्रशिक्षणार्थियों को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाने के साथ-साथ अनेक लोगों को रोजगार व स्वरोजगार भी उपलब्ध कराया जा सकता है। ये बातें संभाग आयुक्त कार्यालय में गुरुवार को आयोजित संभागीय कार्यशाला में प्रमुख सचिव कौशल विकास, तकनीकि शिक्षा रेणु पिल्ले ने कही।

इन क्षेत्रों में रोजगार ही रोजगार

वानिकी क्षेत्र में बांस प्रसंस्करण, मशरूम उत्पादन, शहद उत्पादन, औषधीय पौधों का उत्पादनए, बायोफर्टीलाइजर, लाख उत्पादन

कृषि क्षेत्र में उन्नत बीज उत्पादन, ट्रेक्टर तथा अन्य उपकरणों की मरम्मत संबंधी प्रशिक्षण, पशुपालन क्षेत्र में पोल्ट्री फार्म, डेयरी फार्म, बकरी और भेड़ पालन। मत्स्य क्षेत्र में मछली बीज उत्पादन, उद्यानिकी क्षेत्र में सब्जी उत्पादन, पुष्प उत्पादन, वर्मी कम्पोस्टिग के प्रशिक्षण ।

युवाओं को प्रशिक्षण पर जोर

छत्तीसगढ़ राज्य कौशल विकास प्राधिकरण की ओर से आयोजित इस कार्यशाला में कमिश्नर दिलीप वासनीकर ने कहा कि वर्तमान में कृषि, पशुपालन, उद्यानिकी के क्षेत्र में उन्नत तकनीकि का उपयोग करते हुए व उचित प्रशिक्षण व मार्गदर्शन से आर्थिक दृष्टि से न केवल स्वयं को सशक्त बना सकता है, बल्कि अपने अधीन अनेक लोगों को रोजगार प्रदान कर उनको भी आर्थिक संबल प्रदान कर सकता है। उन्होंने कहा कि बस्तर में स्थानीय संसाधनों का सदुपयोग करते हुए युवा वर्ग उचित प्रशिक्षण प्राप्त कर आत्मनिर्भर हो सकता है। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण कार्यक्रम की नियमित रूप से समीक्षा प्रतिमाह की जाएगी।

उद्यानिकी में इनको प्रशिक्षण

बैठक में बताया गया कि उद्यानिकी क्षेत्र में बस्तर जिले में 264, कांकेर में 177, दंतेवाड़ा में 91, मत्स्य क्षेत्र में कांकेर जिले में 215, पशुपालन क्षेत्र में कांकेर में 162 एवं कृषि क्षेत्र में बस्तर जिले में 124 लोगों को विभिन्न विधाओं में प्रशिक्षण प्रदान किया गया है।

इस अवसर पर संभाग के सभी जिलों के कलक्टर के अलावा बस्तर अपर कलेक्टर हीरालाल नायक, उपायुक्त एसपी नवरतन, जदुवीर राम, संभाग के सभी वनमण्डलाधिकारी सहित कृषि, उद्यानिकी, पशुपालन व मत्स्य विभाग के संभाग व जिला स्तरीय अधिकारीगण उपस्थित थे।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे