Patrika Hindi News

गाली से भड़के कर्मचारियों ने पंप हाउस में जड़ा ताला

Updated: IST Mahatma gandhi ward
पानी पहुंचाने का श्रेय लेने पूर्व पार्षद और पार्षद के बीच हुई खींचतान, नाराज पंप ऑपरेटरों ने पंप हाउस पर जड़ा ताला,महापौर और सभापति ने सुलझाया मामला

जगदलपुर. शहर के महात्मा गांधी वार्ड में पानी को लेकर बुधवार को बवाल मचा। पानी पहुंचाने का श्रेय लेने को लेकर वार्ड के पार्षद पुत्र रवि कश्यप ने टैंकर प्रभारी के साथ अभद्रता करते हुए गालीगलौज की।

इस बात से नाराज पंप ऑपरेटरों ने पंप हाउस पर ताला लगा दिया। जिसके बाद महापौर व सभापति ने यहां पहुंच दोनो पक्षों को शांत कराकर माहौल को सामान्य करने की कोशिश की।

दरअसल बुधवार की सुबह महात्मा गांधी वार्ड में पार्षद कलावती कश्यप ने वाटर टैंकर प्रभारी गगन साव को फोन कर वार्ड के लिए वाटर टैंक की मांग की थी। जिसके बाद पंप हाउस से एक टैंकर वार्ड पहुंचा।

टैंकर लेकर वार्ड पहुंचे कर्मचारी ने यहां पूर्व पार्षद को देख उनके पास गाड़ी लगा दी। जिसके बाद पूर्व पार्षद ने पानी पहुंचाने का श्रेय लेेने टैंकर लेकर पहुंचे चालक को डांगी गली ले जाकर वहां के लोगों को पानी दिलाने खड़ा करवा दिया।

इस बात से नाराज यहां के पार्षद पुत्र रवि कश्यप ने पंप हाउस पहुंच यहां गगन साव के साथ बदतमीजी करते हुए अपशब्दों का प्रयोग किया।इस बात से नाराज यहां के पंप कर्मचारियों ने पंप हाउस में ताला लगा दिया और रवि पर कार्रवाई की मांग करने लगे।

इसके बात की जानकारी लगते ही यहां महापौर जतीन जायसवाल, सभापति शेष नारायण तिवारी और सफाई सभापति राजेश चौधरी यहां पहुंचे और उन्होंने दोनो पक्षों के बीच सुलह कराई।

महापौर व सभापति के सामने भी जमकर तकरार

मामले को शांत करवाने पहुंचे महापौर और सभापति ने जब दोनों पक्षों को आमने सामने किया तो दोनों ही पक्षों में जमकर तकरार हुई। करीब दो घंटे बाद अंत में महापौर ने दोनों पक्षों को बुलाकर सारे गिले शिकवे मिटाने पहले की जिसके बाद पंप ऑपरेटरों ने अपनी हड़ताल खत्म कर ली।

फिर हुआ एेसा तो होगा आंदोलन

इस घटना के बाद स्वायत्तशासी कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष अनिल पिल्ले ने आहत पंप कर्मचारियों की तरफ से महापौर, सभापति और निगम आयुक्त को शिकायत पत्र सौंपा जिसमें इस तरह की घटना होने पर आंदोलन की बात कही।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???