Patrika Hindi News

> > > > Police seized the unclaimed bag full of narcotism substance

शहर के सुनसान सड़क पर पुलिस को मिला कुछ ऐसा, जानकर उड़ जाएंगे होश

Updated: IST marijuana smuggling
शहर की सुनसान सड़क पर पुलिस को कुछ ऐसा मिला जिसे जानकर आपके भी होश उड़ जाएंगे। नक्सल प्रभावित इलाका होने से पुलिस पहले इस बात का अंदाजा लगा रही थी कहीं इन बैग में विस्फोटक तो नहीं।

कोण्डागांव.शहर की सुनसान सड़क पर पुलिस को कुछ ऐसा मिला जिसे जानकर आपके भी होश उड़ जाएंगे। शुक्रवार की सुबह सिटी कोतवाली पुलिस को महात्मा गांधी वार्ड में स्कूल के पास सात बैग लावारिश हालत में मिला। नक्सल प्रभावित इलाका होने से पुलिस पहले इस बात का अंदाजा लगा रही थी कहीं इन बैग में विस्फोटक तो नहीं।

आखिरकार जब बैग को सावधानी से खोला गया तो इसमें गांजा भरा हुआ था। गांजे को पुलिस ने जब्त कर लिया है। फिलहाल पुलिस यह पता नहीं लगा सकी है, किसने इस तरह गांजे से भरे बैग सड़क पर फेंके है।

कोतवाली प्रभारी नारद सूर्यवंशी ने बताया, आपराधिक गतिविधियों पर अंकुश लगाने एसपी संतोष सिंह के निर्देशन व एएसपी माहेश्वर नाग के मागदर्शन में बीती रात नेशनल हाइवे 30 से गुजरने वाले वाहनो की संघन जांच की जा रही थी। हाइवे पर नाकेबंदी व संघन जांच से घबराकर किसी अज्ञात गांजा तस्कर स्कूल के पास पिट्ठू बैग में भरा गांजा फेंककर भाग गया होगा।

गश्त पर निकले पुलिस को सुबह नगर के शासकीय उमावि महात्मा गांधी वार्ड स्कूल के पास लावारिस बैग होने की सूचना मिली। पुलिस ने पहले तो मौके का निरिक्षण किया और सावधानी से बैग की जांच की। जब पुलिस निश्चिन्त हो गई कि बैग में कोई विस्फोटक नही है, सारे बैग को जब्त किया गया।

विस्फोटक के डर से इलाके को किया प्रतिबंधित

स्कूल के पास लावारिश हालत में ढेर सारे बैग फेंके जाने की सूचना के बाद पुलिस ने ऐहतियात बरतते हुए पूरे क्षेत्र को प्रतिबंधित कर दिया और बैग के पास किसी को जाने नही दिया गया। सारे बैग की जांच किए जाने के बाद ही रास्ते को आम लोगों के लिए खोला गया।

दो माह में चार क्विंटल गांजा जब्त

पिछले दो माह में कोण्डागांव पुलिस ने अलग-अलग मामले में चार क्विंटल गांजा बरामद किया है। करीब आधा दर्जन आरोपी गिरफ्तार किए गए हैं। तीन लग्जरी वाहन भी पकड़े गए हैं। यहां ओडिशा के मलकानगिरी इलाके में गांजे की खेती की जाती है। नक्सल प्रभावित इलाका होने का फायदा उठाते हुए ग्रामीण बड़ी तादाद में इसकी खेती करते हैं। यहीं से गांजा बस्तर से होते हुए दूसरे प्रदेशों में तस्करी की जाती है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???