Patrika Hindi News

धुएं पर नहीं लगाया अंकुश तो कटेगा वाहन मालिकों का चालान

Updated: IST pollution
प्रदेश व्यापी कार्रवाई के तहत जिले में भी प्रदूषण जांच के लिए कड़े दिशा निर्देशों के बाद अभियान चलाए जाने का संकेत मिलने लगा है।

बेमेतरा.प्रदूषण फैला रहे वाहनों के खिलाफ दिसंबर महीने के दूसरे सप्ताह से अभियान चलाकर कार्रवाई की जाएगी। प्रदेश व्यापी कार्रवाई के तहत जिले में भी प्रदूषण जांच के लिए कड़े दिशा निर्देशों के बाद अभियान चलाए जाने का संकेत मिलने लगा है। बताना हो कि वाहनों से निकलने वाले धुंए के कारण फैल रहे प्रदूषण को रोकथाम के लिए प्रदेश स्तर पर आगामी दिनों में जांच के लिए अभियान चलाने की तैयारी है। इसके पूर्व प्रदूषण केन्द्रों की संख्या व दायरा भी बढ़ाया जा रहा है। जिससे धुंआ फैलाने वाले वाहनों का पकड़ा जा सके। नियमत: पहले जुर्माना लगेगा फिर दोबारा पकड़े जाने पर कार्रवाई की जाएगी।

वाहन मालिकों पर लगेगा जुर्माना
जानकारी के अनुसार, वाहनों से निकल रहे खतरनाक धुंए की वजह से विषैले तत्व हवा में मिलने लगते हैं। हालांकि, परिवहन विभाग द्वारा इस पर कई बार दिशानिर्देश जारी कर दुरुस्त कराने का निर्देश दिया जा चुका है। इसके बाद भी वाहनों से निकलने वाले धुएं पर अंकुश नहीं लग पाया है। इस तरह की लापरवाही पर वाहन मालिकों पर जुर्माना लगाया जाएगा।

खटारा वाहनों से ज्यादा धुंआ
लगातार बढ़ रहे वाहनों की संख्या अब लोगों की सांसों में जहर घोल रहा है। इसके बावजूद भी आउटडेटेट वाहनों से होने वाले प्रदूषण की जांच की व्यवस्था नहीं की जा रही है। परिवहन विभाग द्वारा इस ओर गंभीरता से ध्यान नहीं दिया जा रहा है। जिस गति से क्षेत्र में हर साल वाहनों की संख्या बढ़ रही है। उस हिसाब से शहर की यातायात व्यवस्था व प्रदूषण पर नियंत्रण का सुधार नहीं हो पा रहा है। मुख्य मार्ग में प्राय: जाम की स्थिति बनी रहती है।

एनजीटी ने सख्त कार्रवाई के दिए निर्देश
जानकार बताते है कि सबसे अधिक प्रदूषण पुरानी और खटारा हो चली गाडिय़ों की वजह से होता है। देश के कई राज्यों में वाहनों को प्रदूषण सर्टिफिकेट की आवश्यकता होती है, लेकिन यहां ऐसा नियम देखने को नहीं मिल रहा है। केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोड़ नई दिल्ली और नेशलन ग्रीन ट्रिब्यूनल ने चिंता जताते हुए इस पर नियंत्रण के लिए राज्य शासनों को निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???