Patrika Hindi News

> > > > Bemetara: Three ICTC centers is no facilities of examined, technicians and staff shortages

तीन आईसीटीसी केंद्रों में जांच की सुविधा नहीं, टेक्निशियन और स्टॉफ की कमी

Updated: IST Aids Day in Bemetara District Hospital
जिले में 3 आईसीटीसीटी केंद्र व एक एसटीआई संचालित है, पर सालों बाद भी जिले के इन केंद्रों में सभी टेक्निशियन व जरुरी स्टॉफ नहीं है।

बेमेतरा .जिले में 3 आईसीटीसीटी केंद्र व एक एसटीआई संचालित है, पर सालों बाद भी जिले के इन केंद्रों में सभी टेक्निशियन व जरुरी स्टॉफ नहीं है। जिसके कारण जिले के बेरला में एक टेक्नीशियन का पद खाली होने के कारण परामर्श दाता को ही दोनों काम करना पड़ रहा है। इसके आलावा साजा में टेक्नीशियन व परामर्शदाता दोनों पद रिक्त है।

यौन रोग चिकित्सा सलाहकार के 4 पद रिक्त

नवागढ़ में केवल गर्भवतियों के ही एचआईवी जांच की सुविधा है। इसलिए दीगर लोगों को बेमेतरा जिला अस्पताल आकर जांच कराना पड़ता है। इसके अलावा जिला अस्पताल में संचालित एआरटी केंद्र में यौन रोग चिकित्सा सलाहकार का पद रिक्त है जिले मे कुल 7 स्वीकित पदो मे से 4 पद रिक्त है। थानखम्हरिया के शासकीय अस्पताल में स्कैनिक जांच की सुविधा है। जिले के सरकारी अस्पतालों में एचआईवी की जांच की सुविधा के अभाव में प्रभावित क्षेत्र के लोगों को निजी लैब का सहारा लेना पड़ रहा है।

सालभर में 41 एचआईवी संक्रमित मिले

साल भर में जिला हास्पिटल में कुल 5545 लोगों ने एचआईवी की जांच कराई। जिसमें 41 संक्रमित पाए गए। जिन्हें उपचार के लिये दुर्ग जिला अस्पताल भेजा गया। जहां पर दवा व सलाह मरीजों को दी गई। जिसके बाद सभी को समय पर जिला अस्पताल के एड्स नियंत्रण केन्द्र में दवा दी जा रही है।

एड्स की जानकारी ही बचाव

जिला हास्पिटल में गुरुवार को एड्स दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। सिविल सर्जन डॉ. वीके श्रीवास्तव, प्रभारी निधि मेश्राम ने जिला अस्पताल मौजूद मरीजों व परिजन को एड्स की जानकारी देते हुए उनसे नहीं डरने की नसीहत दी। साथ ही एड्स के फैलने के कारण और उनसे बचाव के तरीके भी बताए।

एड्स जांच की सुविधा
सिविल सर्जन डॉ. वीके श्रीवास्तव ने कहा कि एड्स से डरने की बजाए लडऩे के लिए तैयार रहना चाहिए। जिले में व्यापक तौर पर एड्स जांच की सुविधा है। जिला अस्पताल के आईटीसी केंद्र में दवाइयां भी दी जा रही है। प्रभारी डॉ. निधि मेश्राम ने लोगों को को एड्स के बारे प्रचलित भ्रांतियों की जानकारी देते हुए उन्हें वास्तविकता से अवगत कराया। साथ ही प्रचार-प्रसार के साथ उसे अमल में लाने बात कही।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???