Patrika Hindi News

जानिए मरीज ने अस्पताल में खुद क्यों किया इलाज

Updated: IST Dreshing patients
पैर जलने के बाद इलाज करने पहुंचा था मरीजआधा घंटा इंतजार के बाद दर्द सहन नहीं हुआ तो पहुंचा डे्रसिंग कक्ष

प्रभातपट्टन. सरकारी अस्पताल के हालात बेहद खराब है। इलाज के लिए मरीजों को घंटों इंतजार करना पड़ता है। इसके बाद भी इलाज हो जाए इसकी गारंटी नहीं है। सोमवार को भी अस्पताल में कुछ ऐसा ही मामला देखने को मिला। सुबह करीब ९.३० बजे पट्टन पंचायत के वार्ड क्रमांक बीस निवासी मनोज कुसरंगे पैर जल जाने के बाद डे्रसिंग कराने के लिए अस्पताल पहुंचे थे। १०.३० बजे तक वह डे्रसिंग कक्ष के बाहर डे्रसर के आने का इंतजार करता रहा। जब उससे दर्द सहन नहीं हुआ तो मनोज ने स्वयं मरहम पट्टी की। मनोज का कहना था कि सरकारी अस्पताल के लिए भव्य भवन तो बना दिया गया पर यहां व्यवस्थाएं नहीं सुधारी गई है। मरीजों को समय पर इलाज नहीं मिलता है। इसकी शिकायत उन्होंने कलेक्टर से करने की बात कहीं है। बीमएओ केआर पाटील का कहना था कि कर्मचारियों की कमी के कारण थोड़ी परेशानी होती है। सोमवार को ड्रेसर अवकाश पर था जिसके कारण मरीजों को इंतजार करना पड़ा होगा फिर भी मामले के संबंध में कर्मचारियों से जानकारी ली जाएगी।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???