Patrika Hindi News

बैंड-बाजे के साथ किन्नर समाज ने घर-घर जाकर दिया स्वच्छता का संदेश

Updated: IST Trans society free from open defecation message de
बुधवार को नगरपालिका के तत्वावधान में किन्नर समाज द्वारा शहर को खुले में शौच से मुक्त करने के लिए ढोल-बाजों के साथ अनोखा अभियान चलाया गया

बैतूल। स्वच्छ भारत अभियान के तहत वर्ष 2017 में होने वाले स्वच्छ शहरों की रैकिंग स्पर्धा में प्रथम स्थान प्राप्त करने के लिए नगरपालिका ने अब एड़ी चोटी का जोर लगाना शुरू कर दिया है। बुधवार को नगरपालिका के तत्वावधान में किन्नर समाज द्वारा शहर को खुले में शौच से मुक्त करने के लिए ढोल-बाजों के साथ अनोखा अभियान चलाया गया। इस अभियान के तहत तिलक एवं किदवई वार्ड के स्लम क्षेत्रों में घर-घर जाकर लोगों को खुले में शौच से होने वाले दुष्यपरिणामों एवं शौचालय बनाए जाने की समझाईश दी गई। अभियान की बागडोर संभाल रहे नगरपालिका अध्यक्ष अलकेश आर्य ने भी शासन की योजनाओं के तहत पक्के शौचालय गरीबों को बनाकर दिए जाने का आश्वासन दिया। इस मौके पर नपा सीएमओ पवन कुमार राय, स्वच्छता निरीक्षक अशोक बाघमारे सहित पार्षदगण आदि उपस्थित थे।
बैंड-बाजा और फूलमालाएं भी साथ में
शहर को खुले में शौच से मुक्त करने के लिए सुबह 7 बजे कोठीबाजार से अभियान की शुरूआत की गई। अभियान का नेतृत्व किन्नर समाज द्वारा किया गया। बैंड-बाजे के साथ शुरू हुआ यह अभियान शहरवासियों के लिए भी जिज्ञासा का केंद्र रहा। अभियान के तहत सबसे पहले किन्नर समाज कोठीबाजार स्थित एक खुले मैदान में पहुंचा। यहां खुले में शौच से लौट रहे लोगों का गांधीगिरी से फूल माला पहनाकर स्वागत किया गया और बाद में किन्नर समाज द्वारा उन्हें खुले में शौच जाने से होने वाले दुष्यपरिणामों के बारे में बताया गया। किन्नर समाज की शोभा गुरु ने शासन की योजना के तहत घर पर ही शौचालय का निर्माण करने की समझाई दी गई।
रैकिंग को लेकर कवायद
नगरपालिका द्वारा शहर को खुले में शौच मुक्त करने का जो अभियान शहर में चलाया जा रहा है वह स्वच्छ भारत मिशन के तहत वर्ष 2017 में तय होने वाली रैकिंग के लिए किया जा रहा है। यदि बैतूल शहर में रैकिंग में बेहतर स्थान प्राप्त कर लेता है तो भविष्य में शहरवासियों को साफ-सफाई के मामले में बेहतर सुविधाएं हासिल हो सकेंगी। अभियान के दौरान नपा अध्यक्ष आर्य ने झुग्गीवासियों को शासन की योजनाओं की जानकारी देते हुए बताया कि अब तो सरकार स्वयं शौचालय बनाने के लिए पैसा दे रही है। सरकार की इस योजना का लाभ उठाकर शहर को स्वच्छ और सुंदर बनाए जाने की अपील होने शहरवासियों से की। वहीं सीएमओ राय ने बताया कि नपा द्वारा परिषद में शहर को खुले में शौच से मुक्त करने के लिए प्रस्ताव लिया गया है। प्रस्ताव के तहत नपा के कर्मचारियों द्वारा लोगों को खुले में शौच से रोकने के लिए प्रयास किए गए लेकिन जब लोग नहीं माने तो किन्नर समाज की मदद लेना पड़ती है। उन्होंने बताया कि यह अभियान आगे भी इसी तरह से जारी रहेगी।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???