Patrika Hindi News

नोट गिनने वाली मशीनों ने नहीं पहचाने नए नोट

Updated: IST Note counting machines do not recognize new notes
एटीएम में पांच सौ और दो हजार के नए नोट डालने की व्यवस्था नहीं हो पाई हैं वहीं बैंकों में नोट गिनने वाली मशीनों द्वारा

जालंधर। केन्द्र सरकार द्वारा 500 तथा 1000 हजार के पुराने नोट बंद करने के बाद जहां बैकों के अधिकतर एटीएम में पांच सौ और दो हजार के नए नोट डालने की व्यवस्था नहीं हो पाई हैं वहीं बैंकों में नोट गिनने वाली मशीनों द्वारा नए नोटों को नहीं पहचानने से बैंकों का कामकाज प्रभावित हो रहा है।

पंजाब बैंक इम्पलाई फेडरेशन के सचिव अमृत लाल शर्मा ने बताया कि देश में 30 हजार बैंक शाखाएं तथा ढाई लाख एटीएम मशीनें लगी हुई हैं जिनमें पांच सौ तथा दो हजार के नए नोट डालने के लिए बदलाव करने की जरूरत है।

उन्होंने बताया कि नए नोट आने से अब नोट गिनने वाली मशीनों ने भी इन्हें पहचान नहीं पाये हैं। इन मशीनों को अपग्रेड करने की जरूरत है जिसपर करोडों रूपये खर्च होने का अनुमान है।

शर्मा ने कहा कि बिना पूरी तैयारी के नोट बंद करने के फैसले से जहां लोगों को परेशानी हुई है वहीं सरकार को भी करोड़ों रूपए का नुकसान हुआ है।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???