Patrika Hindi News

Photo Icon Central School: उसने कहा मैं बीमार हूं, लेकिन टीचर ने फिर भी दौड़ाया, छात्र ही हुई मौत

Updated: IST bhind
परिजनों ने लगाया टीचर पर जबरन दौड़ाने का आरोप, केंद्रीय विद्यालय भिण्ड में कक्षा १०वीं में पढ़ता था छात्र

ग्वालियर/भिण्ड।केंद्रीय विद्यालय में अध्ययनरत एक 16 वर्षीय छात्र को तबीयत खराब होने के बावजूद फिजीकल टेस्ट के लिए दौड़ाया। इसके उपरांत छात्र की हालत बिगड़ी और अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई। हालांकि छात्र ने तबीयत खराब होने पर पेन किलर खाकर स्वयं टीचर से दौडऩे की इच्छा जाहिर की थी।

घटना सुबह 10.30 बजे की है। परिजनों ने विद्यालय की टीचर के साथ झूमाझटकी करते हुए उस पर छात्र को जबरन दौड़ाने का आरोप लगाया है। कक्षा 10वीं का छात्र अभिषेक उर्फ गोलू पुत्र शमसेर सिंह सेंगर निवासी भिण्ड रोज की तरह बुधवार को भी विद्यालय आया। जहां खेल टीचर उर्मिला ठाकुर द्वारा सभी बच्चों का फिटनेस टेस्ट कराया जा रहा था।

अभिषेक के सहपाठी छात्र अमित भदौरिया के अनुसार खेल पीरियड के दौरान अभिषेक से टीचर ने दौडऩे के लिए कहा तो उसने स्वास्थ्य ठीक नहीं होने की बात कहकर मना कर दिया। तदुपरांत अभिषेक चला गया और पेन किलर टेबलेट खाने के कुछ देर बाद आया और दौडऩे की इच्छा जाहिर करने लगा।

टीचर ने भी उसे दौड़ में शामिल कर लिया। जैसे ही वह 100 मीटर की दौड़ लगाकर लौटा तो उसकी हालत बिगड़ गई। इस दौरान टीचर उर्मिला ने न केवल प्राचार्य, बल्कि अभिषेक के परिजनों को भी सूचित किया। आनन फानन में अभिषेक को टीचर व विद्यालय के छात्र जिला अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां उपचार शुरू होने के दौरान ही उसकी मौत हो गई।

मौत के बाद गुस्साए परिजनों ने टीचर से कर दी झूमाझटकी

अभिषेक की मौत के बाद परिजनों ने हंगामा कर दिया तथा अस्पताल में मौजूद विद्यालय की टीचर के साथ न केवल अभद्रता की, बल्कि यह आरोप भी लगाया कि उसके बेटे को टीचर ने जबरन दौड़ाया था। बहरहाल पुलिस ने शव को पीएम के लिए भिजवाने के बाद मर्ग दर्ज कर विवेचना शुरू कर दी है।

"टीचर द्वारा छात्र को जबरन नहीं दौड़ाया गया है, बल्कि उसने स्वयं ही दौडऩे की इच्छा जाहिर की थी। छात्र की हालत बिगडऩे पर तत्काल उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां वह बच नहीं सका।"

आरएस मीणा, प्राचार्य केंद्रीय विद्यालय भिण्ड

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???