Patrika Hindi News

हरियाणा में दो लाख से अधिक राशनकार्ड धारक फर्जी

Updated: IST  Bhopal, Ration card, Aadhar card, point of sale,
हरियाणा सरकार ने प्रदेश को कैरोसीन मुक्त कर दिया है वहीं राज्य में दो लाख से अधिक ऐसे फर्जी राशनकार्ड धारकों

चंडीगढ़। एक तरफ जहां हरियाणा सरकार ने प्रदेश को कैरोसीन मुक्त कर दिया है वहीं राज्य में दो लाख से अधिक ऐसे फर्जी राशनकार्ड धारकों का पता चला है जो लंबे समय से राशन ले रहे थे। हालांकि सरकार ने इस मामले का संज्ञान लेते हुए जांच शुरू कर दी है लेकिन अधिकारी इस बात को लेकर अपनी पीठ थपथपा रहे हैं कि फर्जीवाड़ा उजागर होने के बाद सरकार के करोड़ों रुपए की बचत होगी। फर्जी राशनकार्ड धारकों में अधिकतर ऐसे थे जो लंबे समय से कैरासीन ले रहे थे।

पिछले साल एक नवंबर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की घोषणा के बाद हरियाणा के 8 जिले केरोसीन मुक्त हुए थे जबकि अप्रैल माह से प्रदेश के सभी जिले कैरोसीन मुक्त कर दिया गया है। केन्द्र सरकार की योजना के तहत सभी बी.पी.एल. कार्डधारकों को गैस कनैक्शन उपलब्ध करवाए जा रहे है। प्रदेश में इस समय 11लाख पांच हजार 712 बी.पी.एल. कार्डधारक है जिनमें से अधिकांश को गैस कनैक्शन उपलब्ध करवा दिए गए है जबकि करीब एक लाख 77 हजार 542 बी.पी.एल.कार्ड धारक गैस कनैक्शन से वंचित हैं।

हरियाणा सरकार द्वारा प्रदेश के सभी जिलों को कैरोसीन मुक्त बनाते हुए नए सिरे से राशन कार्डों की जांच की। जांच के दौरान दो लाख आठ हजार 877 बीपीएल कार्ड फर्जी पाए गए हैं। जिनके सहारे कैरोसीन की आड़ में भ्रष्टाचार हो रहा था। खाद्य आपूर्ति विभाग के अधिकारियों का मानना है कि इस फर्जीवाड़े के उजागर होने से करीब ढाई सौ करोड़ रुपए की बचत होगी।

खाद्य आपूर्ति विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव एस.एस. प्रसाद के अनुसार यह मामला सार्वजनिक होने से सरकार को करोड़ों रुपए के राजस्व की बचत होगी। राशन कार्ड फर्जीवाड़े की जांच की जा रही है। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि कई कार्ड धारक ऐसे हैं जो कुछ समय के लिए प्रदेश में आए थे,लेकिन बाद में अपने प्रदेशों को वापस लौट गए। कई परिवार ऐसे हैं जिसमें एक ही परिवार के दो-दो कार्ड बने हुए थे।

उन्होंने कहा कि खाद्य आपूर्ति विभाग का लक्ष्य है कि गैस कनैक्शन से वंचित कार्डधारकों को जल्द ही कनैक्शन उपलब्ध करवाए जाएं। लोगों को गैस कनैक्शन देने के लिए गांव-गांव जागरूकता कैंप लगाए जा रहे हैं। जिन बी.पी.एल. कार्डधारकों को गैस कनैक्शन उपलब्ध नहीं हुए है, उन्हें जल्द ही कनैक्शन उपलब्ध करवा दिए जायेंगे। लोगों को गैस कनैक्शन लेने के लिए जागरूक किया जा रहा है। कैरोसीन मुक्त होने से प्रदेश को करीब 250 करोड रूपए का फायदा होगा।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???