Patrika Hindi News

Video Icon लोन नहीं चुकाने पर उद्योगपति के बंगले के बाहर धरना, बैंककर्मियों ने लगाए नारे

Updated: IST bank employees protest
मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में लोन नहीं चुकाने पर बैंक कर्मियों ने अनोखा तरीका अपनाया। कर्ज नहीं चुकाने वाले एक बड़े उद्योगपति के बंगले के बाहर चार बैंकों के अधिकारी और कर्मचारी धरने पर बैठ गए।

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में लोन नहीं चुकाने पर बैंक कर्मियों ने अनोखा तरीका अपनाया। कर्ज नहीं चुकाने वाले एक बड़े उद्योगपति के बंगले के बाहर चार बैंकों के अधिकारी और कर्मचारी धरने पर बैठ गए। उन्होंने बैनर और हाथों में तख्तियां लेकर उनके बंगले के बाहर जमकर नारेबाजी की।

राजधानी के आशिमा माल से लगे एक बंगले के सामने गुरुवार को कुछ अलग ही नजारा था। एक के बाद एक बैंक कर्मचारी और अधिकारियों की भीड़ जमा होने लगी। यह देख लोग भी कौतूहलवश देख रहे थे। थोड़ी ही देर में बैंक कर्मचारियों ने एक बैनर निकाला और उद्योग पति के बंगले के बाहर लगा दिया। उस बैनर में लिखा था- 'बैंक का पैसा वापस करो।'मध्यप्रदेश में संभवतः यह पहला मामला है जब बैंक के अधिकारियों और कर्मचारियों को इस प्रकार लोन वसूली के लिए ऐसा प्रदर्शन करना पड़ा हो।

बैंक के मुताबिक सीई फर्नांडीज और उनकी वाइफ एवरलिन जीईआई पॉवर नाम से फैक्ट्री संचालित करते हैं। उन्होंने यूनियन बैंक, आईडीबीआई, एमपीएफसी और सारस्वत कॉपरेटिव बैंक से कुल 92 करोड़ रुपए व्यापार के लिए लोन लिया था। उद्योगपति फर्नांडीज को 2012 में लोन दिया गया था, लेकिन एक भी किस्त अब तक उन्होंने नहीं चुकाई है। बैंकों ने बताया कि उद्योगपति के खिलाफ लीगल कार्रवाई भी शुरू कर दी गई है। इस प्रकार का धरना प्रदर्शन का उद्देश्य यही है कि आम जनता के बीच ऐसे उद्योगपति की साख को सामने लाना है, ताकि वो उसे देखकर लोन को चुका दें और लोगों में भी लोन चुकाकर जिम्मेदार नागरिक बनने का संदेश जाए।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???