Patrika Hindi News

> > > > Bhopal: Educational commissioner issue strict order to all collectors

टीचर ने पढ़ाने के अलावा कोई और काम किया तो अब खैर नहीं!

Updated: IST school bag burden
लोकशिक्षण आयुक्त ने कलेक्टर्स से कहा- शिक्षकों से 'बाबूगिरी' कराओगे तो पढ़ाएगा कौन? शिक्षकों को नहीं लगाए गैर शिक्षिकीय कार्य में

भोपाल। मध्यप्रदेश में अब टीचर्स से पढ़ाने के अलावा यदि और कोई काम लिया जाएगा, तो काम लेने वाले संस्थान या संबंधित अधिकारी के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। शुक्रवार को मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में स्थित लोक शिक्षण संचालनालय के कमिश्नर ने पत्र लिखकर सभी जिला कलेक्टर्स को इस संबंध में निर्देश जारी किए।

आयुक्त ने पत्र में लिखा कि सरकारी स्कूल के शिक्षकों को गैर शिक्षकीय कार्य में न लगाया जाए। समय-समय पर जिले में पदस्थ शिक्षकों को शाला से हटाकर अन्य ऐसे स्थानों पर गैरशिक्षकीय कार्य में लगा दिया जाता है जो कार्य बाबुओं का होता है। ऐसा होने पर संबंधित विद्यालय का शैक्षणिक कार्य प्रभावित होता है।

उन्होंने इस संबंध में 6 दिसम्बर 2007 को सर्वोच्च न्यायालय द्वारा दिये गए आदेश का हवाला देते हुए कहा कि सामान्यत: निर्वाचन एवं जनगणना और परीक्षा से संबंधित कार्यों को छोड़कर गैरशिक्षकीय कार्य में न लगाया जाए। इस संबंध में संभागीय संयुक्त संचालक स्कूल शिक्षा और जिला शिक्षा अधिकारी को भी पत्र इन निर्देशों का पालन सुनिश्चित करने के लिए कहा है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे