Patrika Hindi News

MP में बाकी राज्यों के उलट है महिला सुरक्षाकर्मियों की तैनाती

Updated: IST mp police
जहां एक तरफ एमपी में महिलाओं के साथ हो रहे अपराध बढ़ते जा रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ यहां दी जा रही सुरक्षा व्यवस्था भी बाकी राज्यों के मुकाबले बिल्कुल अलग है।

भोपाल। जहां एक तरफ एमपी में महिलाओं के साथ हो रहे अपराध बढ़ते जा रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ यहां दी जा रही सुरक्षा व्यवस्था भी बाकी राज्यों के मुकाबले बिल्कुल अलग है। अगर हम बात करें दूसरे राज्यों की तो बाकी राज्यों में महिला पुलिसकर्मियों की फील्ड पर ज्यादा तैनाती की जाती है जबकि इसके उलट एमपी में महिलाओं को दफ्तरों में पदस्थ किया जाता है।

हाल ही में गृह मंत्रालय के द्वारा जारी की गई रिपोर्ट में यह बात सामने आई है कि मौजूदा समय में एमपी पुलिस में महिला सुरक्षाकर्मियों की संख्या 4 हजार 294 है जिसमें अफसर से लेकर कॉन्स्टेबल तक शामिल हैं। इस कम संख्या को देखते हुए पुलिस भर्ती में महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण देने की घोषणा कर दी गई लेकिन इसके बावजूद भी इसमें महिलाओं की रुचि नहीं बढ़ी। साल 2016 में हुए कॉन्स्टेबल भर्ती में भी महिलाओं के कई पद खाली रह गए।

ये हैं बाकी राज्यों की व्यवस्था
एमपी के मैदानों में पदस्थ महिला पुलिसकर्मियों की संख्या करीबन 4 हजार है जिसमें 196 निरीक्षक, 476 एसआई, 196 एएसआई, 476हेड कॉस्टेबल और 2829 कॉन्स्टेबल शामिल हैं। लेकिन अगर हम बात करें दूसरे राज्यों की तो मैदान में पदस्थ महिला पुलिसकर्मियों की संख्या एमपी के मुकाबले कई ज्यादा है। महाराष्ट्र में इन पदों पर 21 हजार 174, उप्र में 7 हजार 505, दिल्ली में 6 हजार 976, बिहार में 6 हजार 289 महिला पुलिसकर्मी मैदान में पदस्थ हैं।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???