Patrika Hindi News

नर्मदा नदी पर बना दिया फ्लोटिंग ब्रिज, 80 KM की दूरी हो गई 600 मीटर

Updated: IST floating bridge in sehore
नर्मदा सेवा यात्रा के पथ का निरीक्षण करने चौरसाखेड़ी गांव पहुंचे कलेक्टर डॉ. सुदाम खाड़े ने भगवान की तारीफ करते हुए इसके प्रसार में उन्हें पूरी मदद दिलाने का भरोसा दिलाया है।

सीहोर। एक साधारण नाविक भगवान सिंह ने कुछ नया करने का सोचा और नर्मदा नदी पर प्रदेश का पहला फ्लोटिंग ब्रिज बना डाला। उनके प्रयास से ग्रामीणों की जिंदगी में खुशिया के रंग भर गए क्योंकि ब्रिज से सीहोर से हरदा के बीच का 80 किलोमीटर का सफर महज 600 मीटर में सिमट गया।

नर्मदा सेवा यात्रा के पथ का निरीक्षण करने चौरसाखेड़ी गांव पहुंचे कलेक्टर डॉ. सुदाम खाड़े ने भगवान की तारीफ करते हुए इसके प्रसार में उन्हें पूरी मदद दिलाने का भरोसा दिलाया है। संभवत: नदी पर बनाया गया प्रदेश में अपनी तरह का यह पहला फ्लोटिंग ब्रिज है।

जिले के चौरसाखेड़ी से हरदा जिले के ग्राम छोटी छीपानेर को जोडऩे वाले ब्रिज के पीछे भगवान सिंह की सोच रही जिसे उन्होंने खुद साकार किया। उन्होंने बताया, प्रदेश में अपने प्रकार के पहले इस पुल को नाव बनाने वाली सामग्री से बनाया गया है। इसमें 40 लाख रुपए का खर्च आया है।

2000 फीट लंबा
4.5 फीट चौड़ा
09 माह आवागमन, बारिश में बंद
80 किमी का सफर घट गया
50 हजार लोगों की राह हुई आसान
70 युवाओं को इसके संचालन से रोजगार
40 लाख खर्च

फ्लोटिंग ब्रिज नाविक का सराहनीय प्रयास है। इसे चौड़ा करने में जो भी शासकीय मदद भगवान सिंह चाहेंगे, उसे हम दिलाने का प्रयास करेंगे।
-डॉ. सुदाम खाड़े,कलेक्टर सीहोर

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ?भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???