Patrika Hindi News

तिल-तिल घटने लगेगी ठंड, आएंगे अच्छे दिन

Updated: IST ?????????
इसी दिन सूर्यदेव धनु राशि को छोड़कर मकर राशि में प्रवेश करते हैं। इसी दिन से सूर्य की चाल भी बदल जाती है, वह उत्तरायण हो जाता है।

इसी दिन सूर्यदेव धनु राशि को छोड़कर मकर राशि में प्रवेश करते हैं। इसी दिन से सूर्य की चाल भी बदल जाती है, वह उत्तरायण हो जाता है। कहा जाता है कि मकर संक्रांति के दिन तिल-तिल ठंड कम होने लग जाती है। यानी इस दिन से ठंड का प्रभाव घटने लगता है।

अच्छे दिनों की होती है शुरुआत
संक्रांति ऐसा दिन है, जिस दिन से धरती पर अच्छे दिनों की शुरुआत होती है। इसी दिन से सूर्य दक्षिण की बजाय उत्तर की ओर अपना रुख करता है। सूर्य पूर्व से दक्षिण की ओर गमन करता है तो उसकी किरणों का असर बुरा माना गया है, लेकिन जब वह उत्तर की ओर गमन करता है तो उसकी किरणें सेहत और शांति को बढ़ा देती है।

स्नान और दान का है विशेष महत्व
इस दिन स्नान, दान और पुण्य का शुभ समय माना गया है। मकर संक्रांति के पावन पर्व पर गुड़ व तिल लगा कर नर्मदा में स्नान करना लाभदायी होता है। दान में गुड़, तेल, कंबल, फल, छाता आदि देना चाहिए।

श्रीकृष्ण ने गीता में बताया था इसका महत्व
श्रीकृष्ण ने भी उत्तरायण का विशेष महत्व समझाया था। भगवतगीता के मुताबिक उत्तरायण के छह मास के शुभ काल में जब सूर्य नारायण उत्तरायण होते हैं और पृथ्वी पर प्रकाश फैल जाता है। इसी दौरान इस प्रकाश में शरीर का परित्याग करने से व्यक्ति का पुनर्जन्म नहीं होता है, लोग ब्रह्म को प्राप्त कर लेते हैं।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ?भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???