Patrika Hindi News

500 रुपए मिनिमम बैलेंस और अनलिमिटेड ATM से ट्रांजेक्शन, देखें नया रूल

Updated: IST minimum balance in post office account
देश के साथ प्रदेश में भी पोस्ट आफिस का नेटवर्क सबसे बड़ा है। यह सभी बैंकों में तब्दील हो जाएंगे तो यह किसी राष्ट्रीय बैंक से कम नहीं होगा। माना जा रहा है कि पोस्ट आफिस अब धीरे-धीरे अपनी ब्रांचेंस और एटीएम बढ़ाते जा रहा है।

भोपाल। अपने बैंक एकाउंट में मिनिमम बैलेंस पांच हजार रुपए रखने की बाध्यता के बीच यह अच्छी खबर है कि इस बैंक में मात्र 500 रुपए ही बैंक खाते में रखना जरूरी होगा। चेकबुक, मुफ्त एटीएम के साथ ही अनलिमिटेड ट्रांजेक्शन पर भी कोई चार्ज नहीं लिया जाएगा। पोस्ट आफिस के अधिकारियों के मुताबिक पोस्ट आफिस अब कोर बैंकिंग में बदल गया है।

कमजोर आय वर्ग बनेंगे मजबूत
देशभर के साथ ही मध्यप्रदेश में भी पोस्ट आफिस ने बैंकों की तरह काम करना शुरू कर दिया है। पोस्ट आफिस की इस सुविधा से कमजोर आय वर्ग और अल्प बचत करने वालों को बड़ा फायदा होगा। कई पोस्ट आफिस ने तो अपने एटीएम भी शुरू कर दिए हैं। भोपाल में चार और इंदौर में दो एटीएम शुरू हो गए हैं। देश के साथ प्रदेश में भी पोस्ट आफिस का नेटवर्क सबसे बड़ा है। यह सभी बैंकों में तब्दील हो जाएंगे तो यह किसी राष्ट्रीय बैंक से कम नहीं होगा।

50 रुपए से खुलेगा खाता
एक तरफ शासकीय-निजी सेक्टर के बैंकों में खाता खुलवाना एक मशक्कत भरा काम होता है। इसके अलावा मिनिमम बैलेंस रखना और ट्रांजेक्शन चार्ज भी लोगों को खटकता है। ऐसे में पोस्ट आफिस की नई योजना के अंतर्गत मात्र 50 रुपए से खाता खुल जाएगा, जिसका एटीएम भी दिया जाएगा। खास बात यह है कि यह एटीएम सभी राष्ट्रीय बैंकों में चलेंगे और सभी ट्रांजेक्शन फ्री होंगे। यानी तीन या पांच से अधिक बार पैसा निकालने पर भी कोई पैसा नहीं लगेगा।

इंटरनेट बैंकिंग और चेकबुक सुविधा भी
पोस्ट आफिस में खाता खुलवाने वालों को चेकबुक भी दी जाएगी और इंटरनेट बैंकिंग की भी सुविधा होगी। हालांकि इंटरनेट बैंकिंग शुरू होने में अभी छह माह का वक्त लगेगा। पोस्ट आफिस की यह बैंक कोर बैंकिंग भी होगी।

भोपाल में खुल गए 4 एटीएम, ट्रांजेक्शन शुरू
पोस्ट आफिस ने मध्यप्रदेश के विभिन्न शहरों में अपने एटीएम खोलना भी शुरू कर दिया है। प्रदेश की राजधानी भोपाल में चार एटीएम खुल गए हैं, वहीं इंदौर में दो एटीएम खुल गए हैं।

पांच करोड़ हैं खाताधारक
मध्यप्रदेश में कई राष्ट्रीय बैंकों समेत कोआपरेटिव बैंक हैं, जिनमें करीब पांच करोड़ खाते हैं। मध्यप्रदेश में जनधन खातों की ही संख्या दो करोड़ 22 लाख से अधिक हो गई है।

इन बैंकों में लगेगा भारी जुर्माना
एक अप्रैल से सरकारी बैंक एसबीईआई ने मिनिमम बैलेंस पर भारी जुर्माना लगाने की घोषणा की है। नए सर्कुलर के मुताबिक सेविंग अकाउंट्स में तीन बार कैश जमा कराना निःशुल्क रहेगा, लेकिन इसके बाद हर कैश ट्रांजेक्शन पर 50 रुपए का चार्ज वसूला जाएगा, इसके अलावा सर्विस चार्ज भी देना होगा। इसके अलावा करंट एकाउंट के मामले में यह चार्ज अधिकतम 20 हजार रुपए तक हो सकता है।

एसबीआई के सर्कुलर के मुताबिक यदि आप अपने खाते में मिनिमम एवरेज बैलेंस (MAB) नहीं रखते हैं तो हर माह 100 रुपए तक का जुर्माना भी वसूला जाएगा। इस पर सर्विस टैक्स भी वसूला जाएगा।

नए नियम में यह है खास
1.शहरी इलाके के खाताधारकों के खाते में यदि मिनिमम बैलेंस 5,000 रुपये का 75% होगी, तो उन्हें जुर्माने के रूप में 100 रुपए और सर्विस टैक्स देना पड़ेगा।

2.यदि बकाया न्यूनतम राशि के 50 प्रतिशत या उससे कम है तो बैंक 50 रुपए और सर्विस टैक्स वसूल करेगा। ग्रामीण इलाकों में यह जुर्माना न्यूनतम किया जा सकता है।

3. स्टेट बैंक एक माह में अन्य बैंक के एटीएम से तीन बार से ज्यादा पैसा निकालने पर 20 रुपए चार्ज वसूलेगा। यदि ग्राहक एसबीआई के एटीएम से पांच से ज्यादा ट्रांजेक्शन करता है, तो हर बार 10 रुपए वसूला जाएगा।

4. एसबीआई के डेबिट कार्डधारकों से एसएमएस अलर्ट भेजने के लिए बैंक हर तिमाही में 15 रुपए आपके खाते से काटेगा।

5. भारतीय रिजर्व बैंक ने नए नियमों पर बैंकों को शुल्क वसूली की इजाजत दे दी है और यह शुल्क इसी साल 1 अप्रैल से लागू हो जाएंगे।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ?भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???