Patrika Hindi News

लॉन्च हुआ बाहुबली-2 का ट्रेलर,  फिल्म देखने से पहले जानना जरूरी है ये बात

Updated: IST bahubali
सबसे ज्यादा इंतजार इस सवाल के जवाब के लिए है कि कटप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा। और इस सवाल का जवाब आपको मध्य प्रदेश की एक आवाज देगी।

अमरेंद्र बाहुबली यानि मैं, माहिष्मती की असंख्य प्रजा और उनके धन, मान और प्राण की रक्षा करूंगा.. और इसके लिए अपने प्राणों की आहुति देनी पड़ी तो भी मैं पीछे नहीं हटूंगा.. राजमाता शिवगामी देवी को साक्षी मानकर मैं ये शपथ लेता हूं।

भोपाल।फिल्म बाहुबली - 2 का ट्रेलर रिलीज हो गया है। फिल्म के ट्रेलर में एक दमदार डायलॉग आपको सुनाई देगा। ये डायलॉग फिल्म के हीरो प्रभास पर फिल्माया गया है, और प्रभास को ये आवाज मिली है मध्य प्रदेश से। जी हां, मध्य प्रदेश की ही आवाज आपको बताएगी की कटप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा।

महासेना..क्या है मृत्यु, हमारे आत्मबल से शत्रु का बल ज्यादा है..ये सोचना है मृत्यु..रणभूमि में शत्रु से भयभीत होकर जीवित रहना है मृत्यु..जिस नीच ने हमारी मां का अपमान किया है वो हमारे सामने अट्टाहस कर रहा है..उसका सर काटकर मां के चरणों में अर्पित करने की जगह..पीठ दिखाकर भागना है मृत्यु..उस मृत्यु को मारने जा रहा हूं मैं..मेरी मां और मातृभूमि को कोई छू नहीं सकता..उसकी छाती चीरकर उन सबको ये कहने जा रहा हूं मैं..

फिल्म बाहुबली का ये डायलॉग भी आपको याद होगा ही। शत्रु से डरी हुई अपनी सेना को युद्ध के लिए प्रेरित करने वाला ये डायलॉग प्रभास ने जिस दमदार ढंग से बोला था, उसने सबके रोंगटे खड़े कर दिए थे। हिंदी में डब ये फिल्म लोगों को बेहद पसंद आई थी और अब तक की सबसे सफल फिल्मों में से एक मानी जाती है। यही वजह है कि इसके अगले पार्ट के बेसब्री से इंतजार किया जा रहा है।

वैसे सबसे ज्यादा इंतजार इस सवाल के जवाब के लिए है कि कटप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा। और इस सवाल का जवाब आपको मध्य प्रदेश की एक आवाज देगी। वही आवाज जिसने ऐसे ही तमाम दमदार डायलॉग्स को अपनी आवाज दी थी। वो आवाज जो फिल्म के हिंदी वर्जन में प्रभास यानि फिल्म के लीड हीरो के लिए इस्तेमाल की गई थी।ये आवाज है ग्वालियर के शरद केलकर की।

`bahubali

ग्वालियर के रहने वाले शरद केलकर टेलीविजन के साथ साथ फिल्मों में भी अपनी पहचान स्थापित करने में कामयाब हो चुके हैं। सुपरहिट फिल्‍म 'बाहुबली' में लीड रोल निभानेवाले अभिनेता प्रभास की हिंदी भाषा में डबिंग उन्‍होंने ही की थी। फिल्‍म के निर्देशक एसएस राजामौली ने पहले किसी और से डबिंग करवाई थी बाद में उन्‍होंने शरद से संपर्क किया और ऐतिहासिक फिल्म के साथ ही शरद की आवाज दुनियाभर में गूंजी।

भारी आवाज से लोग होते थे हैरान
फिल्म बाहुबली, द बिगनिंग की रिलीज के बाद जब हर तरफ शरद की आवाज की तारीफ हो रही थी, तब उन्होंने एक इण्टरव्यू में अपनी आवाज से जुड़ी कई बातें बताईं थीं। ग्वालियर के दिनों को याद करते हुए शरद बताते हैं कि मुझे याद है, पहले लोग मेरी आवाज को कहते थे कि बाप रे कितनी भारी आवाज है।

bahubali

मेरे घर फोन आया और अगर मैंने फोन उठा लिया तो सामने वाले मेरी भारी आवाज को सुनते तो कहते कि अरे जरा अपनी बेटी से बातचीत करा दीजिए, जबकि उन्हें मेरी बहन से बातचीत करनी होती थी।

शरद मानते हैं कि उसी आवाज की जब आज लोग तारीफ करते हैं तो उन्हें काफी खुशी मिलती है। फिल्म बाहुबली के डायरेक्टर राजमौली ने फिल्म के हिंदी वर्जन के लिए प्रभास की आवाज को पहले किसी और से डब कराया था, लेकिन वो आवाज राजामौली को पसंद नहीं आयी इसके बाद उन्होंने शरद की आवाज में ट्रायल लिया और इसके बाद की कहानी सभी जानते हैं।

BAHUBALI

शरद सिर्फ डबिंग आर्टिस्ट ही नहीं हैं, एक्टिंग में भी उन्होंने अपना जलवा दिखाया है। टीवी के अलावा बड़े पर्दे पर भी उनकी आदाकारी काफी पसंद की जाती है।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???