Patrika Hindi News

एक शहर ऐसा जहां बेटियां शादी में अपने साथ ले जाती हैं ज्यादा से ज्यादा बर्तन, जनिये कैसे बनी ये परंपरा

Updated: IST water utensils
दहेज के सामान में तांबे, पीतल और स्टील की गागर के अलावा स्टील की टंकी भी होती है। साथ ही लडकी जितने ज्यादा हो सके बर्तन अपने साथ ले जाती है।

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से सटे राजगढ़ जिले में लोगों के अपने ही कुछ खास रीति रिवाज तक बन गए हैं। अपने जीवन के प्रति धनात्मक द्रष्टिकोण रखने के चलते यहां के लोगों ने कुछ नई परंपराओं का निर्माण कर लिया है, ताकि उनके बच्चों को परेशानियों का सामना न करना पडे।

दरअसल यहां के लोगों को एक समस्या ने लोगों को इस कदर परेशान किया है, कि उन्होंने इससे निपटने के लिए कुछ नई परंपराएं बना ली हैं। यहां पानी की समस्या का असर लोगों की जिंदगी पर भी साफ नजर आता है।

marriage

यही कारण है कि बेटियों को शादी में दिए जाने वाले दहेज में पानी भरने के लिए बर्तन सबसे ज्यादा होते हैं। राजगढ़ जिले में पानी की समस्या के कारण बेटियों को दिए जाने वाले दहेज का अंदाज ही जुदा हो गया है। यहां बेटियों को शादी के बाद पानी की समस्या से न जूझना पड़े और पानी भरने में सहूलियत हो इस बात का परिजन पूरा ध्यान रखते हैं।

पूर्व में खिलचीपुर तहसील के सोनकच्छ में आयोजित सामूहिक विवाह समारोह में दिए जाने वाले दहेज में सबसे ज्यादा पानी भरने वाले बर्तनों की तादाद यहां की समस्या को बयां करने वाली थी। अमूमन दहेज के सामान में पानी भरने के छह पात्र दिए जाते हैं। इसमें तांबे, पीतल और स्टील की गागर के अलावा स्टील की टंकी भी होती है।

वहीं यहां शादी के दौरान पानी के ज्यादा से ज्यादा बर्तन दिए जाने का कारण पुछने पर लोगों का कहना है कि पानी यहां की मुख्य समस्या है, लिहाजा पानी भरने के बर्तन ज्यादा दिए जाते हैं।

fort of mp

राजगढ़ जिले के कई गांवों में यह बात भी साफ हो जाती है, क्योंकि यहां के अधिकांश गांवों के कुओं पर महिलाओं की भीड़ आसानी से नजर आ जाती है। महिलाओं का ज्यादातर समय पानी भरने में ही गुजर जाता है। पानी की समस्या का असर भी कुछ इस तरह जिंदगी पर है कि लोग बेटी को दहेज में पानी संग्रहण के बर्तन ज्यादा देते हैं।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???